हम तो ए.सी. में हैं, छात्रों की परेशानी से हमें क्या

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
Captureलखनऊ। लखनऊ विश्वविद्यालय में प्रोफेशनल कोर्स व इम्प्रूवमेंट डिग्री निकालने के लिए फीस जमा करने के लिए सुबह 11 बजे से छात्रों की लम्बी लाइन काउन्टर पर लगी रही। फीस जमा करने के लिए सात काउन्टर बनाए गये हैं। जिनमें से दो काउन्टरों पर ही फीस जमा हो रही है। धूप में लंबी लाइन लगाकर छात्र अपनी बारी का इंतजार करते नजर आए। कड़ी धूप और गर्मी के कारण कुछ छात्राओं की तबीयत भी बिगड़ रही थी। वहीं सोर्स वाले छात्रों की फीस सीधे कैशियर ऑफिस के अन्दर जमा हो रही थी।
विश्वविद्यालय की अव्यवस्था और बदइंतजामी तो किसी न किसी तरह देखने को मिल ही जाती है। यहां छात्रों की सुविधाओं का ख्याल भूल कर भी किसी को आ जाए तो यह बड़ी बात है। पूरा विश्वविद्यालय मनमाने ढंग से चलाया जा रहा है। प्रोफेशनल कोर्स की फीस जमा करने के लिए छात्रों को कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है। कैशियर तो एसी में बैठ कर भी ठीक से काम नहीं कर पा रहे हैं। छात्र-छात्रायें धूप औैर गर्मी से परेशान हो कर विश्वविद्यालय परिसर में घूमते दिखे। छात्रों की स्वास्थ्य सुविधा तो दूर की बात है उन्हें जानकारी भी देने की विश्वविद्यालय प्रशासन ने जहमत नहीं उठाई। पूछने पर बीएससी की छात्रा श्रुति श्रीपाल ने बताया कि हम लोग 11 बजे से लाइन में लगे हैं। अब जाकर हमारा नम्बर आया है। जिनकी जान पहचान है वह अन्दर जाकर फीस जमा करवा ले रहे हैं। कम से कम छात्रों के लिए बाकी काउन्टर तो खोल ही देने चाहिए।
अर्चना सिन्हा का कहना था कि वह लोग पहले अपने जान पहचान वालों की फीस जमा कर रहे थे, बाद में अन्य छात्र-छात्राओं की फीस। रेनू यादव और तान्या शुक्ला का कहना था कि कम से कम बच्चों को धूप से बचाने के लिए तिरपाल ही लगवा देते, कई छात्राओं को धूप की वजह से चक्कर आ रहे थे। एम.ए. के छात्र आनंद कुमार यादव ने बताया कि फीस जमा करने का आज आखिरी दिन था। भीड़ को देखते हुए सभी विंडो खोल देने चाहिए थे।

Pin It