स्वयंसेवी के घर पर हमला, मिली धमकी

पुलिसकर्मी के बेटे ने कहा, निकलवा दूंगा मोहल्ले से बाहर

विभागीय व्यक्ति से जुड़े मामले को दबाने में जुटी पुलिस

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। गाजीपुर थाना क्षेत्र के मारुतिपुरम निवासी स्वयंसेवी सुधा सिंह पर पड़ोस में रहने वाले पुलिस कर्मी के बेटे ने हमला बोल दिया। इसके साथ ही आवारा पशुओं का ख्याल रखने पर मोहल्ले से बाहर करवाने की धमकी भी दे डाली। इस मामले में गाजीपुर पुलिस प्राथमिकी दर्ज होने के बाद भी कार्रवाई नहीं कर रही है।
सुधा सिंह मारुतिपुरम कॉलोनी में कई वर्षों से परिवार के साथ रहती हैं। वह समाज सेवा के साथ ही सडक़ पर घूमने वाले आवारा पशुओं का ख्याल भी रखती हैं। सुधा के मुताबिक उनका यह कार्य मोहल्ले में रहने वाले कुछ लोगों को पसंद नहीं आता है। इसकी वजह देर रात आने-जाने वाले पड़ोसियों पर गली के कुत्तों का भौंकना और उनकी आवाज से पड़ोसियों को होने वाली परेशानी है। इस कारण पड़ोसियों ने कई बार सुधा को कुत्तों को खाना खिलाने के लिए मना किया लेकिन वह नहीं मानी। कुत्तों का ख्याल रखने के मुद्दे पर पड़ोसी पुलिसकर्मी के बेटे की सुधा से कई बार बहस हो चुकी है। इसी मुद्दे को लेकर पुलिस कर्मी के बेटे ने उनके घर पर पथराव किया। इसकी शिकायत घटना के तत्काल बाद पुलिस से की गई लेकिन गाजीपुर पुलिस ने दोनों पक्षों को बुलाकर समझा-बुझाकर वापस भेज दिया। इस मामले में पीडि़त महिला का आरोप है कि पुलिसकर्मी के बेटे के खिलाफ पथराव करने का सीसीटीवी फुटेज होने के बाद भी पुलिस चुप है। पुलिस वाले अपने स्टाफ वाले के बेटे का मामला दबाने की फिराक में है। इसी वजह से कार्रवाई करने से बच रही है। इसलिए उन्हें न्याय मिलने की उम्मीद कम लग रही है।

Pin It