स्मार्ट सिटी नहीं स्मार्ट विलेज बनाएं पीएम : आजम

 4Captureपीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। आजम खान ने लखनऊ में पत्रकारों से बातचीत में एक बार फिर पीएम मोदी पर हमला बोला। आजम ने इस बार मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट स्मार्ट सिटी को निशाना बनाया है। आजम ने कहा की स्मार्ट सिटी को नहीं बल्कि स्मार्ट विलेज बनाने पर ध्यान देना चाहिए।
दरअसल, कोलंबिया में स्मार्ट सिटी को लेकर उच्च स्तर कि एक बैठक हुई थी, जिसमे यूपी के डेलिगेशन कि अगुवाई आजम खान कर रहे थे। मीटिंग में आजम ने कहा की गाँव कि बड़ी आबादी शहरों कि ओर पलायन कर रही है। ऐसे में यदि शहरों कि बजाय गांव को संपन्न बनाया जाए तो ज्यादा बेहतर होगा। स्मार्ट सिटी की बात करते करते आजम ने वाराणसी का मुद्दा भी उठाया। उन्होंने कहा की हमारे शहर पहले से ही स्मार्ट है. उन्होंने कहा प्रदेश सरकार ने बनारस में हर गली में इंटरलॉकिंग करवाई है, जबकि यह क्षेत्र पीएम का संसदीय क्षेत्र है। इसके बावजूद एक साल बीत गया लेकिन पीएम ने कोई पैसा अपने संसदीय क्षेत्र के विकास के लिए नहीं भेजा। आजम खान से पूछा गया की आखिर स्मार्ट सिटी में रायबरेली और मेरठ को क्यों नहीं शामिल किया गया तो उन्होंने कहा यदि ऐसा कोई विवाद है तो इन दोनों शहरों में से किसी को चुन लिया जाए. रामपुर को स्मार्ट सिटी ना बनाया जाए।

अडानी को लेकर पीएम पर साधा निशाना
आजम खान ने अडानी को लेकर पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि स्मार्ट विलेज बनायेंगे तो अडानी को फायदा नहीं मिलेगा। गांव की जमीन नहीं छीन पायेंगे। फायदा तो तब होगा जब जमीन छीनेंगे। यही नहीं उन्होंने नीति आयोग पर हमला करते हुए कहा कि नए नियमों कि वजह से तमाम योजनाओं का पैसा केंद्र से नहीं मिला जिसमे मिला उसमे भी कटौती की गयी है। आजम खान ने मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट नमामि गंगे कि सफलता पर भी सवाल खड़े कर दिए। आजम ने कहा सरकार में दलों के बदलने का असर प्रोजेक्ट पर नहीं पडऩा चाहिए।

Pin It