सुविधाएं दुरुस्त नहीं हुईं तो शिक्षक करेंगे पंचायत चुनाव का विरोध

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। जय नारायण इंटर कॉलेज में उप्र की राज्य कार्यकारिणी की एक बैठक आयोजित की गई जिसमें संघ के अध्यक्ष व विधानपरिषद में शिक्षक दल के नेता ओम प्रकाश शर्मा ने कहा कि पंचायत चुनाव की ड्यूटी में जा रहे शिक्षकों को बहुत परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। जिन विद्यालयों में मतदान व मतगणना स्थल बनाया जाता है वहां पर सुविधाएं नहीं रहती। उन्होंने कहा कि बीते दिनों ड्यूटी के दौरान सर्पदंश से एक कर्मचारी की मौत हो चुकी है और एक की हार्टअटैक से। ऐसे में अगर सुविधाएं दुरुस्त न हुईं तो आगे पंचायत चुनाव में शिक्षक ड्यूटी नहीं करेंगे।
इसके अलावा बैठक में माध्यमिक स्कूलों में एक अप्रैल से नए सत्र को शुरू किए जाने के फैसले को पूरी तरह फेल बताया गया। पदाधिकारियों ने कहा कि सरकारी व सहायता प्राप्त माध्यमिक स्कूलों में अप्रैल में बहुत से विद्यार्थी इसलिए नहीं आते क्योंकि वह गांव में अपने परिवार के साथ खेत में हाथ बंटवाते हैं। बैठक में एक जुलाई से ही माध्यमिक स्कूलों में नया सत्र शुरू करने की मांग की गई। वहीं माध्यमिक शिक्षा विभाग के इलाहाबाद स्थित कार्यालय में व्याप्त भ्रष्टाचार पर भी विरोध जताया गया। बैठक में इस बात पर भी चर्चा की गई कि लखनऊ में ही एक शिक्षक की मृतक आश्रित को नौकरी पाने में छह साल लगे और जब नौकरी मिली तो उस महिला को छह महीने वेतन के लिए दौड़ाया गया। फिलहाल अपनी 20 सूत्रीय मांगों को लेकर संघ के अध्यक्ष ओम प्रकाश शर्मा माध्यमिक शिक्षा निदेशक के शिविर कार्यालय पर 24 नवंबर को प्रदर्शन करेंगे।

Pin It