सुप्रीम कोर्ट के फैसले को रालोद ने सराहा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। जाति और धर्म आधारित राजनीति पर सुप्रीम कोर्ट के रोक लगाने के फैसले को रालोद ने सराहा है। प्रदेश अध्यक्ष मसूद अहमद ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में जाति और धर्म की राजनीति करने वाले दलों सपा, भाजपा और बसपा को चुनावों में जनता के बीच जाने के लिए मुद्दा तलाशना पड़ेगा। इन दलों ने केवल जाति धर्म का सहारा लेकर ही आगे बढ़ते रहने की कसम खा रखी है। इसलिए कोर्ट के फैसले से सबसे अधिक उन्हीं को नुकसान होगा।
रालोद अध्यक्ष डॉ. अहमद ने कहा कि जाति धर्म के आधार पर राजनीति करने वाले भाजपा, सपा व बसपा की करतूतों से ही भाईचारा और सौहार्द संकट में आ जाता है। इसी के कारण 25 वर्षों से उत्तर प्रदेश का राजनैतिक एवं सामाजिक परिदृश्य बदला हुआ है। चुनावों में ही नहीं विधान सभा और लोकसभा में बहस के समय भी अनेकों बार जाति धर्म के प्रसंग ही देखने को मिलते हैं।

Pin It