सीबीएसई व आईसीएसई की मेधावी छात्राओं को मिलेगा कन्या विद्या धन

छात्राओं को राष्टï्रीयकृत बैंक में खुलवाये गये बचत खाते की पासबुक, कैन्सिल्ड चेक की प्रति उपलब्ध कराना होगा अनिवार्य

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। वर्ष 2015 में इंटरमीडिएट की परीक्षा उत्तीर्ण करने वाली सीबीएसई व आईसीएसई की मेधावी छात्राओं को भी कन्या विद्या धन दिया जाएगा। यह योजना मुख्य सचिव उत्तर प्रदेश शासन के शासनादेश संख्या 1268 के तहत लिया गया है। जिसके तहत विद्यालयों प्रधानचार्य को छात्रों की सूची के साथ आवेदन में मांगी गई जरूरी जानकारी का सत्यापन कर शासन को उपलब्ध कराना होगा।
2015 में इंटरमीडिएट उत्तीर्ण करने वाली सीबीएसई व आईसीएसई की मेधावी छात्राओं की सूची सचिव माध्यमिक शिक्षा परिषद उत्तर प्रदेश इलाहाबाद द्वारा स्कूलों को उपलब्ध करायी गयी है। सूची में जारी किए गए स्कूलों को अपने यहां उत्तीर्ण मेधावियों की सूची तैयार कर छात्राओं के नाम के साथ आवेदन में मांगी गयी जरुरी जानकारी को विद्यालय के प्रधानाचार्य को पूरी करनी होगी जिसमे कालम में छात्रा की जाति और प्रमाण पत्र का उल्लेख करना आवश्यक बताया गया है। यदि छात्रा सामान्य वर्ग के अतिरिक्त अन्य किसी जाति वर्ग की है तो उसका जाति प्रमाण पत्र छात्रा के राष्टï्रीयकृत बैंक में खुलवाये गये बचत खाते की पासबुक,कैन्सिल्ड चेक की पठनीया प्रति भी उपलब्ध कराना अनिवार्य किया गया है। इन सबके बाद भी अगर कोई त्रुटि होती है तो उसका उत्तरदायी स्वंय छात्रा व विद्यालय होगा। इस योजना से सीबीएसई व आईसीएसई की
छात्रों को लाभान्वित करने के उद्देश्य से किया गया है।

 

Pin It