सीएम ने पीएम को लिखा पत्र

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से आगरा के निकट जनपद फिरोजाबाद के हिरनगांव में अन्तरराष्टï्रीय हवाई अड्डïा और ग्रेटर नोएडा के जेवर नामक स्थान पर हवाई अड्डे की स्थापना से सम्बन्धित प्रकरणों का शीघ्रतापूर्वक समाधान करवाने का अनुरोध किया है, जिससे अन्तरराष्टï्रीय पर्यटन नगरी आगरा में प्रति वर्ष लाखों की संख्या में आने वाले देशी-विदेशी पर्यटकों को सीधे अन्तरराष्टï्रीय वायुसेवा की सुविधा मिल सके।
श्री यादव ने प्रधानमंत्री को लिखे एक पत्र में अवगत कराया है कि पर्यटन नगरी आगरा में आने वाले देशी-विदेशी पर्यटकों को अन्तर्राष्ट्रीय वायु सेवा उपलब्ध कराने तथा पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से प्रदेश सरकार द्वारा अन्तरराष्टï्रीय मानकों के अनुरूप आगरा में हवाई अड्डे की स्थापना प्रस्तावित है। इसके लिए आगरा के निकट जनपद फिरोजाबाद में हिरनगांव स्थल का चयन भी किया जा चुका है।

श्री यादव ने यह भी उल्लेख किया है कि राज्य सरकार द्वारा पूर्व में ग्रेटर नोएडा में जेवर नामक स्थान पर सार्वजनिक-निजी सहभागिता के आधार पर एक अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा बनाये जाने का प्रस्ताव किया गया था जिसके लिए सभी आवश्यक क्लीयरेन्सेज भी प्राप्त हो गई थीं।

इस सम्बन्ध में मुख्य सचिव द्वारा केन्द्रीय नागर विमानन सचिव को लिखे गये 10 जून, 2010 के अर्धशासकीय पत्र में सम्पूर्ण स्थिति का विस्तार से वर्णन है। राज्य सरकार इस परियोजना के अनुसार जेवर में भी एक उच्च स्तरीय हवाई अड्डा बनाना चाहती है। मुख्यमंत्री श्री यादव ने अपने पत्र में उल्लेख किया है कि रक्षा मंत्रालय की आपत्ति के मद्देनजर उनके द्वारा प्रधानमंत्री को प्रेषित 7 जुलाई, 2015 के अपने एक अन्य पत्र द्वारा विकल्प के रूप में अन्य दो साइट, जनपद इटावा का सैफई एयरपोर्ट तथा जनपद आगरा की तहसील बाह के भदरौली नामक स्थान का प्रस्ताव भेजा गया था। इसमें यह अनुरोध किया गया था कि इन प्रस्तावों का परीक्षण केन्द्रीय रक्षा मंत्रालय एवं नागरिक उड्डयन मंत्रालय से संयुक्त रूप से करा लिया जाए और उपयुक्त साइट के बारे में राज्य सरकार को सूचित किया जाए।

Pin It