सीएम, गवर्नर ने बंधवाई राखी, अखिलेश ने कहा

Captureसाक्षी को देंगे रानी लक्ष्मीबाई पुरस्कार

लखनऊ। देश भर में रक्षा बंधन का त्यौहार हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और राज्यपाल राम नाईक को राखी बांध कर लोगों ने अपनी सुरक्षा का संकल्प लिया। वृंदावन की 10 विधवा महिलाएं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को राखी बांधने दिल्ली पहुंची हैं। वहीं मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आवास 5 केडी पर भी रक्षाबंधन कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें सैकड़ों की संख्या में महिलाएं सीएम को राखी बांधने पहुंची। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने रियो ओलंपिक के दौरान ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाली साक्षी को रानी लक्ष्मीबाई पुरस्कार देने की घोषणा की है। इसके साथ ही प्रदेश की जनता को रक्षाबंधन की बधाई भी दी।
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने संबोधन में कहा कि सपा सरकार में प्रोग्रेस विदाउट पॉल्यूशन की तर्ज पर काम कर रही है। प्रदेश में तेजी से विकास हो रहा है, जो चारों तरफ दिखाई दे रहा है। प्रदेश में हाईवे बनाया जा रहा है।युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराये जा रहे हैं। गरीबों को पेंशन और छात्रों को स्कॉलरशिप दी जा रही है। इन सबका मकसद लोगों का विकास करना है। सीएम ने कहा कि रक्षाबंधन का त्यौहार भाई और बहन के बीच अटूट प्रेम और सुरक्षा के दायित्वों की प्रेरणा देता है। प्रदेश सरकार महिलाओं की सुरक्षा, विकास और सामाजिक स्तर में सुधार की दिशा में लगातार काम कर रही है। प्रदेश में महिला हेल्प लाइन, कन्या विद्याधन, प्रसूताओं के लिए 102 नंबर एंबुलेंस समेत कई अन्य योजनाएं चलाई जा रही हैं। 

सरकारी एंबुलेंस योजना का लाभ भी महिलाओं को मिल रहा है। कन्या विद्याधन से सालाना हजारों छात्राएं लाभान्वित हो रही हैं। उन्हें आगे पढऩे का अवसर मिल रहा है। इसके अलावा महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों पर अंकुश लगाने की दिशा में 1090 की भूमिका भी अहम मानी जा रही है। इससे हजारों महिलाएं और लड़कियां लाभान्वित हुई हैं। इसी प्रकार 102 नंबर एंबुलेंस सेवा के माध्यम से गर्भवती महिलाओं और प्रसूताओं को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं दिलाने की कोशिश की जा रही है। गर्भवती महिलाओं का सरकारी अस्पतालों में इलाज और जांचे मुफ्त हैं। इसके अलावा महिलाओं के गर्भ में पलने वाले बच्चों और पांच साल तक की उम्र के बच्चों को कुपोषण से मुक्ति दिलाने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है। इस अवसर पर पेंशन मंत्री राजेन्द्र चौधरी, कारागार मंत्री रामूवालिया और मुख्यमंत्री के प्रमुख सलाहकार आलोक रंजन समेत कई अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे। इसी क्रम में आज जिला जेल में भी रक्षाबंधन त्यौहार धूमधाम से मनाया गया।

राज्यपाल को भी महिलाओं ने बांधी राखी

रक्षाबंधन के अवसर पर राजभवन में राज्यपाल राम नाईक को भी सभी धर्मों की महिलाओं व बच्चों ने राखी बांधकर रक्षाबंधन की बधाई दी। राज्यपाल ने प्रदेश की जनता को रक्षा बंधन की बधाई दी। उन्होंने कहा कि रक्षाबंधन का मकसद समाज में महिलाओं की सुरक्षा और उनके सम्मान के दायित्वों को समझना है। हमें महिलाओं की सुरक्षा के प्रति अपनी जिम्मेदारी और कर्तव्यों का पालन करना होगा। इस अवसर पर उन्होंने भ्रष्टाचार को समाज के विकास में बाधक बताते हुए कहा कि भ्रष्टाचार को खत्म करने में लोकायुक्त की भूमिका अहम होती है। इसलिए सीएम को पत्र लिखकर लोकायुक्तों की रिपोर्ट पर कार्रवाई करने की बात कही है।

 
Pin It