सीएम की बेटी ने सैफई में गाना गाकर जीता दिल

अखिलेश यादव की बेटी अदिति ने जब संभाला माइक तो तालियों से गूंज उठा पंडाल

सांसद ङ्क्षडपल यादव ने मंच पर आकर बढ़ाया अपनी बेटी का हौसला

D14पीएम न्यूज़ नेटवर्क

इटावा। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की बेटी अदिति ने सैफई महोत्सव में पहली बार गाना गया तो सभी चौक गए। इस दौरान सांसद डिम्पल यादव बेटी का हौसला बढ़ाती रही और बार-बार बेटी को ठीक से माइक पकडऩे को लेकर सलाह देती हुई नजर आईं।
सैफई महोत्सव में इन दिनों गीत-संगीत का प्रमुख केन्द्र बन गया है। लोग इन कार्यक्रमों का जमकर लुत्फ उठा रहे हैं। शनिवार को अमेरिका से आईं सूफी सिंगर इत्तिदा ने बेहतरीन गानों से समां बांध दिया। इसी दौरान मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की बेटी ने भी मंच पर माइक थामा और गाना गाकर वहां मौजूद लोगों का दिल जीत लिया।
बताया जाता है कि परफॉर्मेंस दे रहीं इत्तिदा ने अचानक सांसद डिम्पल यादव और उनकी बेटी अदिति को मंच पर बुला लिया। इसके बाद इत्तिदा ने अदिति से गाना गाने का अनुरोध किया। पहले तो मुख्यमंत्री की बेटी हिचकिचाने लगी, लेकिन साथ खड़ी उनकी मां सांसद डिम्पल यादव ने हौंसला बढ़ाया। इसके बाद अदिति का आत्मविश्वास बढ़ा और एक इंग्लिश सॉन्ग सुनाया। इस दौरान मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव और पीसीएफ चेयरमैन अंकुर यादव समेत कई लोग मौजूद थे।

जम्मू कश्मीर में सरकार बनाने को कांग्रेस और भाजपा दोनों बेचैन

जम्मू की सरकार दे सकती है बड़े राजनैतिक संदेश
भाजपा अब जम्मू में फूंक-फूंक कर रख रही है अपना कदम

लखनऊ: जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद की मृत्यु के बाद घाटी का राजनैतिक तापमान बढ़ गया है। कांग्रेस और भाजपा दोनों चाहती हैं कि दिवंगत मुख्यमंत्री की बेटी महबूबा उनके पाले में आ जाएं और वह गठबंधन की सरकार बना लें। वक्त की नजाकत को देखते हुए अभी महबूबा ने अपने पत्ते नहीं खोले हैं अलबत्ता उन्होंने भाजपा के सामने शर्तों का पिटारा खोल दिया है। भाजपा जानती है कि बिहार चुनाव की हार के बाद जम्मू से भी अगर वह सत्ता से बेदखल होती है तो इसके गलत राजनैतिक संकेत जायेंगे। कांग्रेस चाहती है कि वे जम्मू में सरकार बनाकर यह संकेत दे कि भाजपा के गठबंधन के साथी उससे किनारा करें। भाजपा जम्मू कश्मीर में सरकार तो बनाना चाहती है मगर वह यह भी चाहती है कि महबूबा ऐसा कोई काम न करें, जिससे भाजपा के वोट बैंक को यह मैसेज जाए कि भाजपा सत्ता के लिए अपने सिद्धांतों से समझौता कर रही है। जाहिर है कि जम्मू कश्मीर में गठबंधन अब नाजुक दौर से गुजर रहा है।

Pin It