सिटी ब्रीफ

दो पंपों के खराब होने का हर्जाना भुगत रहे शहरवासी

लखनऊ। गऊघाट पर लगे नौ पंपों में से दो के खराब होने की वजह से शहरवासियों को जरूरत के हिसाब से पानी नहीं मिल पा रहा है। इसके चलते बालागंज और ऐशबाग जलकल को कच्चे पानी की आपूर्र्ति ठीक ढंग से नहीं हो पा रही है। पिछले दस दिनों में गऊघाट पर लगे पंपों में से दो पंपों के खराब हो जाने की वजह से शहरवासियों को पानी की किल्लत से जूझना पड़ रहा है। अधिकारियों का दावा है कि अब अमृत योजना में गऊघाट और दोनों जलकलों में खराब पंपों का बदलने का काम किया जाएगा। ठाकुरगंज इलाके में गोमती तट पर बने गऊघाट पंपिंग स्टेशन से ही बालागंज और ऐशबाग जलकल को कच्चे पानी की आपूर्ति होती है। दोनों जलकलों में यहां से करीब रोजाना ३०० एमलडी पानी भेजा जाता है। नदी में पानी पंप पर जलकल को भेजने के लिए गऊघाट पंपिंग स्टेशन पर कुल ९ पंप लगे हैं। मगर इसमें चल सिर्फ सात ही रहे हैंं। इस कारण ऐशबाग जलकल को कम पानी मिलने की वजह से शहरवासियों को जरूरत भर पानी नहीं मिल पा रहा है।
कल से पेंशन बहाली को लेकर होगा प्रदर्शन
लखनऊ। पेंशन बहाली की मांग को लेकर उत्तर प्रदेश कर्मचारी शिक्षक समन्वय समिति द्वारा घोषित धरना प्रदर्शन कल हजरतगंज स्थित जीपीओ पार्क में किया जाएगा। प्रदर्शन में उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष ओम प्रकाश शर्मा एवं सभी शिक्षक तथा सभी घटक संगठनों के प्रदेशीय एवं जनपदीय पदाधिकारियों के साथ ही जिला संगठन के पदाधिकारी इसमें भागीदारी करेंगे। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेशीय मंत्री एवं प्रवक्ता डॉ. आर.पी. मिश्र ने बताया कि 1 अप्रैल, 2005 से लागू नवीन पेंशन योजना शिक्षकों एवं कर्मचारियों के लिए किसी भी तरह से हितकर नही है, क्योंकि पुरानी पेंशन योजना में 10 प्रतिशत की वेतन से कटौती होती है। डा. मिश्र ने बताया कि नवीन पेन्शन योजना के स्थान पर पुरानी पेन्शन योजना की बहाली के लिए संघर्ष किया जा रहा है। संघर्ष के अगले चरण में 14 जुलाई को प्रदेश के सभी जनपद मुख्यालयों में धरना प्रदर्शन के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित किए जाएंगे और क्रान्ति दिवस के अवसर पर 09 अगस्त को राजधानी लखनऊ में विशाल रेैली होगी जिसमें प्रदेश के लाखों लाख शिक्षक और कर्मचारी सम्मिलित होंगे।

Pin It