सिटी बस ट्रांसपोर्ट आमदनी बढ़ाए: मण्डलायुक्त

जिले में सिटी बस सेवाओं का विस्तार करने का निर्देश

Capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। मंडलायुक्त महेश कुमार गुप्ता ने लखनऊ सिटी बस सर्विसेज की आय में कमी और व्यय में बढ़ोत्तरी पर नाराजगी व्यक्त की है। इस मामले को गंभीरता से लेकर सिटी बस के खर्चों में कमी करने और प्रति किलोमीटर आय बनाने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही नई कालोनियों और मार्गों पर यातायात सुविधाएं शुरू करने पर भी विचार करने को कहा है।
मंडलायुक्त ने सिटी बस सर्विसेज की समीक्षा बैठक के दौरान कहा कि जिले में परिवहन व्यवस्था को बेहतर बनाकर आय में बढ़ोत्तरी की जा सकती है। इसमें परिवहन विभाग से मिली जानकारी के आधार पर सिटी बस सर्विसेज पॉलीटेक्निक से एयरपोर्ट तक लगभग 22 किलोमीटर लम्बे रास्ते पर आवागमन की सुविधा शुरू की जा सकती है। इससे सिटी ट्रांसपोर्ट की आय बढऩे की अपार संभावनाएं हैं। इस संबंध में परिवहन विभाग के प्रबंध निदेशक रहमान को सडक़ों और आय बढ़ाने के साधनों का अध्ययन करने की जिम्मेदारी सौंपी है। इसके अलावा चारबाग से मोहान रोड, बालागंज से मलिहाबाद, बरदानी हनुमान मंदिर से पारा रोड पर बस चलाने और आलमनगर रेलवे स्टेशन पर भारी संख्या में उतरने वाले रेल यात्रियों को भी बस की सुविधा उपलब्ध कराकर आय बढाने की सम्भावना पर विचार करने को कहा है। मंडलायुक्त ने प्रबंध निदेशक की तरफ से एमएसटी का अनुमोदन मांगे जाने पर तत्काल स्वीकृति प्रदान कर दी। इसके बाद आय बढ़ाने के सभी साधनों पर गौर करने और सिटी बस सर्विसेज पर कड़ी निगरानी रखने की बात कही है। उन्होंने कहा कि सिटी बस सर्विसेज को आय में हो रही कमी पर चौकन्ना रहना चाहिए और किस वजह से कमी हो रही है, उसका पता लगाकर तत्काल निराकरण किया जाना चाहिए। गौरतलब हो कि सिटी ट्रांसपोर्ट बस सर्विसेज का मई 2015 में ïव्यय 98 लाख था, जो जून 2015 में बढक़र 112 लाख का हो गया है। यह ट्रांसपोर्ट बस सर्विसेज के लिए अत्यंत चिन्ता का विषय है। इसी कारण मण्डलायुक्त ने सिटी ट्रांसपोर्ट बस सर्विसेज की आय और व्यय पर कड़ी निगाह रखने की योजना बनाई गई है।

Pin It