साथियों के साथ लूट के लिये कर दी हत्या

Captureवजीरगंज क्षेत्र में पेट्रोल पम्प मालिक एमवी त्रिवेदी हत्याकांड का पर्दाफाश

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। वजीरगंज क्षेत्र में एक वर्ष पूर्व हुई पेट्रोल पम्प मालिक एमवी त्रिवेदी की हत्या और लूट के मामले का पुलिस ने पर्दाफाश करते हुये दो को गिरफ्तार किया। जबकि दो अन्य को फैजाबाद पुलिस ने एक दिन पहले ही गिरफ्तार किया था। लूट का मास्टर माइंड कोई और नहीं बल्कि त्रिवेदी का चालक राजेश यादव ही निकला। लूट की घटना करने के लिये उसने एमवी त्रिवेदी के यहां डेढ़ माह तक चालक की नौकरी भी की थी। इसके छह माह बाद वह अपने साथियों के साथ घटना को अंजाम दिया था। पुलिस टीम को एसएसपी ने पांच हजार रुपये का इनाम देने की घोषणा की है।
एसएसपी राजेश कुमार पांडेय ने बताया कि वजीरगंज थाना क्षेत्र में 10 मार्च को रिवर बैंक कॉलोनी निवासी पेट्रोल पंप मालिक महेंद्र विहारी त्रिवेदी की उनके घर के बाहर बाइक सवार बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। साथ ही बदमाशों ने उनसे 13 लाख रुपए लूट लिए थे। इस मामले में पुलिस ने इटावा निवासी महेंद्र के रिश्तेदार प्रदीप सहित कई अन्य अपराधियों से पूछताछ की थी लेकिन कोई सुराग नहीं मिला। जिससे पुलिस शांत होकर बैठ गई थी।
इस मामले में फैजाबाद पुलिस ने ईमानी अपराधी जितेंद्र पांडेय उर्फ टाइगर के साथ राजेश यादव के साथ गिरफ्तार किया तो उसने वजीरगंज क्षेत्र में हुई घटना को स्वीकार किया। इसके बाद लखनऊ पुलिस ने वारदात में शामिल दो अन्य को गिरफ्तार किया। श्री पांडेय ने बताया कि सिटी रेलवे स्टेशन के पास से अविनाश पांडेय उर्फ बाबा निवासी
आजमगढ़ व राकेश उपाध्याय उर्फ डब्लू निवासी आजमगढ़ को भी गिरफ्तार किया। इनके पास से मृतक का दो एटीएम कार्ड सहित अन्य सामान बरामद हुआ है। पकड़े गये अपराधी पूर्व में भी कई पेट्रोल पम्प के मालिक और व्यवसाईयों को निशाना बना चुके है। पकडऩे वाले टीम में निरीक्षक क्राइम ब्रांच भगवान सिंह, उप निरीक्षक अक्षय कुमार सिंह, अमरेश त्रिपाठी, सुनील सहित अन्य पुलिसकर्मी शामिल है।

Pin It