समाज को अपने प्रेरणा स्रोत अपने बीच में ही ढूंढने होंगे: अखिलेश यादव

समाजवादी सरकार सभी प्रतिभाओं को पहचान बनाने का अवसर देने के लिए कृतसंकल्पित
मुख्यमंत्री ने विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वालों को किया सम्मानित

 4Captureपीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ । उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि समाज को अपने प्रेरणा स्रोत अपने बीच में ही ढूंढने होंगे। ये प्रेरणा स्रोत अपने उत्कृष्ट कार्यों से समाज के सामने उदाहरण प्रस्तुत करने वाले लोग होने चाहिए। इन्हें पहचान कर सम्मान दिलवाने का काम सरकार को करना होगा। समाजवादी सरकार अपने इस दायित्व को निभाने के लिए प्रयासरत है।
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव अपने सरकारी आवास पर आयोजित एक कार्यक्रम में विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्यों से उदाहरण बनने वाले लोगों को सम्मानित करने के पश्चात अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने विश्वास जताया कि सम्मानित किए गए लोगों के काम से अन्य लोग प्रेरणा लेंगे। उन्होंने कहा कि डॉ. राम मनोहर लोहिया कहते थे कि समाज अच्छा तब तक नहीं बन सकता, जब तक की बुरे को बुरा न कहा जाए। श्री यादव ने आगे कहा कि उनका मानना है कि बुराइयों के साथ अच्छाइयों को पहचानने की भी कोशिश होनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने जनपद बलिया के ग्राम दलछपरा के बहादुर युवकों राजकुमार साहनी, संजय साहनी, शिवकुमार साहनी, पिंटू साहनी को 1 लाख रुपये का चेक देकर, जनपद मिर्जापुर के गांव दलापट्टी के 60 वर्षीय रामजीत यादव को 5 लाख रुपये का चेक देकर, जनपद लखनऊ के गोमती नगर के कृष्ण कुमार को 1 लाख रुपये का चेक देकर तथा जनपद लखनऊ की 15 वर्षीय सुषमा वर्मा को 5 लाख रुपये का चेक देकर सम्मानित किया। जनपद गौतमबुद्धनगर, नोएडा के 13 वर्षीय हरेन्द्र सिंह को भी सम्मानित किया गया और उन्हें 5 लाख रुपये की आर्थिक सहायता दिए जाने की घोषणा की गयी।
इस अवसर पर राजनैतिक पेंशन मंत्री राजेन्द्र चैधरी, बाल विकास एवं पुष्टाहार राज्य मंत्री कैलाश चौैरसिया, मुख्य सचिव आलोक रंजन, प्रमुख सचिव सूचना नवनीत सहगल, मशहूर शायर वसीम बरेलवी सहित शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Pin It