शिवपाल को गोद लेना चाहते थे जयगुरुदेव: अमर सिंह

  • शिवपाल के बचाव में आगे आए अमर सिंह, मोदी सरकार पर जमकर बरसे और निकाली भड़ास

Capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राज्यसभा सदस्य चुने जाने के बाद अपनी पुरानी रौ में लौटे अमर सिंह मथुरा कांड को लेकर रविवार को समाजवादी सरकार के वरिष्ठ मंत्री शिवपाल सिंह यादव के बचाव में आगे आए। मथुरा कांड का ठीकरा केंद्र सरकार पर फोड़ते हुए उन्होंने इस घटना के लिए इंटेलीजेंस ब्यूरो, आइबी और केंद्रीय गृह मंत्रालय को जिम्मेदार ठहराया।
समाजवादी पार्टी के प्रदेश कार्यालय में शिवपाल यादव के साथ मीडिया से मुखातिब अमर सिंह ने कहा कि मथुरा के जवाहरबाग में मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड व उड़ीसा के नक्सलियों की मौजूदगी और वहां हथियारों का जखीरा जुटाने के बारे में आइबी और केंद्रीय गृह मंत्रालय राज्य सरकार को जानकारी देने में नाकाम रहे। उन्होंने इसके लिए केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह की भी खिंचाई की। अमित शाह का नाम लिए बगैर अमर सिंह ने कहा कि वह शिवपाल सिंह पर मथुरा में उपद्रव कराने का अभद्र आरोप लगा रहे हैं लेकिन उन्हें मध्य प्रदेश का व्यापमं घोटाला, छत्तीसगढ़ का झीरम घाटी नरसंहार और हरियाणा के जाट आरक्षण आंदोलन में महिलाओं की अस्मत लूटा जाना नहीं दिखता क्योंकि वहां भाजपा सरकारें हैं। उन्होंने कहा कि बाबा जयगुरुदेव तो शिवपाल को गोद लेना चाहते थे। लेकिन यह तैयार नहीं हुए। किसी भी धार्मिक स्थल पर जाने का मतलब किसी को संरक्षण देना नहीं है।
अमर सिंह ने उड़ता पंजाब का जिक्र करते हुए कहा कि पंजाब में मादक पदार्थों के तस्कर कश्मीर में दहशतगर्दी को अंजाम दे रहे हैं। हेमा की चुटकी लेते हुए उन्होंने कहा कि जब आइबी और केंद्र सरकार ने कोई इनपुट ही नहीं दिया तो हेमामालिनी को अपने संसदीय क्षेत्र मथुरा में हिंसा होने का अंदेशा भला कैसे होता। इसलिए जब हिंसा हुई तो हेमा ट्विटर पर अपनी फिल्म की शूटिंग की फोटो पोस्ट करने में मशगूल थीं। बतौर सांसद हेमा ने जवाहर बाग में कब्जे को लेकर क्या कभी कोई पत्र लिखा। कैराना में हिन्दुओं के पलायन के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि वहां जो हो रहा है, वह अच्छा नहीं है। राज्य सरकार उसका संज्ञान लेकर प्रशासनिक दृष्टि से कार्रवाई करेगी। केन्द्र सरकार से उल्टा सवाल किया कि कश्मीर के पंडितों के पलायन का क्या हुआ, वहां तो भाजपा की साझा सरकार है। इसके अलावा उन्होंने यूपीए सरकार में परमाणु संधि के मुद्दे पर मुलायम सिंह की दरियादिली का बखान किया और एनएसजी के मुद्दे पर भाजपा को घेरने का प्रयास किया। सपा मुख्यालय में आओजित प्रेस वार्ता के दौरान राज्यसभा सांसद अमर सिंह के साथ कैबिनेट मंत्री शिवपाल यादव भी मौजूद रहे।

Pin It