शिक्षामित्रों की समस्या का समाधान नहीं हुआ तो दिल्ली में करेंगे प्रदर्शन

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। हाईकोर्ट के फैसले के बाद आक्रोशित शिक्षामित्रों ने पूरे प्रदेश में व्यापक आंदोलन शुरु कर दिया। शिक्षामित्रों की कोर कमेटी ने यह फैसला किया है कि 21 सितम्बर को मुख्यमंत्री से मिलगें। यदि कोई सार्थक परिणाम नहीं निकला तो शिक्षामित्र अपने हक के लिए सूबे में आंदोलन तो करेंगे ही साथ ही दिल्ली में शक्ति प्रर्दशन करने की योजना तैयार की है।
दो दिवसीय बैठक के बाद शिक्षामित्र संघ द्वारा जारी योजना पर पूरे प्रदेश में शिक्षामित्रों का व्यापक आंदोलन शुरू हो सकता है। इसके कारण यूपी सरकार की मुश्किलें आने वाले समय में बढ़ सकती हैं। उत्तर प्रदेश शिक्षामित्र संघ के अध्यक्ष गाजी इमाम आला ने कहा कि यूपी में हमेशा से शिक्षामित्र उपेक्षा के शिकार होते रहे हैं। शिक्षकों से अधिक शिक्षामित्रों से विद्यालयों में शिक्षण कार्य कराया जाता है। यही नही शिक्षा कार्य के अलावा सारे काम करवाए जाते हैं। इसके साथ ही शिक्षामित्रों की ड्यूटी जनगणना जैसे सरकारी कार्यों और चुनावों में भी लगाई जाती है। इसके बावजूद अपना हक पाने के लिए शिक्षामित्रों को काफी संघर्ष करना पड़ता रहा है। इस संबंध में उत्तर प्रदेश शिक्षामित्र संघ के पुनीत चौधरी ने कहा कि सरकारों के साथ योजनाए बदलती जाती है। केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी तो उत्तराखंड में शिक्षामित्रों को टीईटी परीक्षा से छूट दे दी थी। इसी तरह से जब आज केंद्र में बीजेपी की सरकार है तो बीजेपी शासित महाराष्ट्र राज्य में भी शिक्षामित्रों को छूट देकर समायोजन कर लिया गया, लेकिन यूपी में शिक्षामित्रों की सुनने वाला कोई नहीं है। कोर्ट के फैसले के बाद प्रदेश भर में शिक्षामित्रों का प्रर्दशन शुरु होने के बाद व कई जिलों में कई घटनाओं को देख कर भी सरकार इस मामले को सुलझाने के लिए प्रयास कर रही है।

छात्रों की नहीं हुई सुनवाई

लखनऊ। खुन-खुन जी गल्र्स डिग्री कॉलेज की छात्राओं ने अंकपत्र न मिलने के कारण लखनऊ विश्वविद्यालय में प्रर्दशन किया। एमए प्रथम सेमेस्टर का रिजल्ट छात्राओं को अब तक नही मिला है। इस संबंध में छात्राएं परिक्षा नियंत्रक से मिलने आई लेकिन उनकी मुलाकात नही हो सकी।
छात्राओं का कहना है कि हम लोगों का प्रथम सेमेस्टर की परीक्षा हुए तीन माह से उपर हो गया है लेकिन अब तक हमारा रिजल्ट नही मिला है, जिसके कारण हम लोग सेकेण्ड सेमेस्टर का फार्म नही भर पाए है। 24 सितम्बर को सेकेण्ड सेमेस्टर की परीक्षा होनी है लेकिन रिजल्ट न मिलने की वजह से हम लोग फार्म नही भर पा रहे हैं।

Pin It