शिकायत केन्द्रों पर नहीं हो रही सुनवाई

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। रोजाना नगर निगम में एकीकृत शिकायत केन्द्रों पर तीन सौ से अधिक शिकायतें आ रही है, लेकिन शिकायतों का निस्तारण जिस रफ्तार से होना चाहिए, नहीं हो पा रहा है। शिकायतों के निस्तारित होने का ग्राफ लगातार गिर रहा है। नतीजतन शिकायत केंद्र शो पीस बनकर रह गया है। संबंधित अफसर अपने मोबाइल पर आने वाले मैसेज को भी गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। वहीं 19 से 23 अगस्त तक दर्ज हुई शिकायतों के आंकड़ों के हिसाब से चालीस फीसद समस्याएं निस्तारित ही नहीं हुई।
12 जुलाई को दो शिकायतें दर्ज हुई थी, जिनका नंबर 242695 और 242696 हैं। इन दोनों शिकायतों पर आज तक निस्तारित नहीं हो सकी है। यह मामले तो बस एक नमूना है। 19 अगस्त को बंगला बाजार निवासी राम चंद्र शुक्ल ने सफाई की शिकायत दर्ज कराई थी, वह निस्तारित नहीं हुई। इस दिन कुल 350 शिकायतों में 242 निस्तारित हुई और 108 अनिस्तारित। 20 अगस्त को एल्डिको ग्रीन के गिरजा शंकर मिश्र जलभराव की शिकायत दर्ज कराई थी, वह भी हल नहीं हुई। इस दिन कुल 353 शिकायत दर्ज हुई थी, इनमें 138 अनिस्तारित हुई और 215 निस्तारित। 21 अगस्त को प्रकाश नगर निवासी जयाश्री ने मलबा उठवाने की शिकायत दर्ज कराई थी, लेकिन समस्या हल नहीं हुई। उक्त तिथि को 263 शिकायत दर्ज हुई थी, इनमें 138 अनिस्तारित रहीं।

कंट्रोल रूम के एसी खराब

नगर निगम के एकीकृत शिकायत केंद्र में तीन एसी लगे थे, लेकिन दो एसी दो माह से खराब पड़े हैं। तमाम शिकायतों के बाद भी इन्हें संबंधित अधिकारियों द्वारा दुरुस्त नहीं करवाया गया है। ऐसे में यहां नौ कंप्यूटर प्रभावित हो रहे हैं।

Pin It