वेबसाइट पर उपलब्ध कराया 700 से अधिक विवि की जानकारी

  • अभ्यर्थियों को ई-मेल व दूसरे माध्यम से मिलेगी रिक्तियों की जानकारी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। अक्सर पीएचडी,नेट जेआरएफ कर चुके अभ्यर्थियों को रोजगार के लिए इधर-उधर भटकना पड़ता था। इस बात की जानकारी नहीं मिल पाती थी कि उन्हें नौकरी कैसे और कहां मिलेगी, लेकिन अब पीएचडी और नेट-जेआरएफ करने वाले अभ्यार्थियों को रोजगार के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। इसके लिए विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ऐसे सभी अभ्यार्थियों को नौकरी की जानकारी मुहैया कराएंगा। इसके लिए यूजीसी की ओर से अपने ऑफि शियल वेब पेज पर एक लिंक जारी किया
है। जिस पर अभ्यर्थी को अपना पूरा प्रोफ ाइल बनाकर ऑनालइन रजिस्ट्रेशन कराना होगा। इसके बाद उनके द्वारा दिए गए ई-मेल व दूसरे माध्यमों से देश भर के उच्च शिक्षण संस्थाओं में निकल रहे वैकेंसी के बारे में जानकारी प्रदान की जाएगी।
अभ्यर्थियों को एक जगह सारी जानकारी उपलब्ध कराने के व देशभर के केन्द्रीय और प्रदेश विवि में असिसटेंट प्रोफेसर, एसोसिएट प्रोफेसर, प्रोफेसर आदि पदों के लिए निकलने वाली रिक्तियों की सही जानकारी देने के लिए यूजीसी की ओर से ऑफिशियल वेब पेज तैयार किया है। इससे अभ्यर्थियों को रिक्तियों व पोस्ट के विषय में सम्पूर्ण जानकारी मिल सकेगी। वहीं इससे पहले इस व्यवस्था के न होने के कारण अभ्यर्थियों को विभिन्न विश्वविद्यालयों में निकलने वाली रिक्त जगहों की जानकारी के लिए दलालों व दूसरे माध्यमों पर निर्भर रहना पड़ता है। इसके साथ ही नॉन टीचिंग पोस्ट की सूचना अभ्यर्थी को नहीं मिल पाती है। इन सारी समस्याओं को देखते हुए यूजीसी ने पहली बार इस ओर एक अनुठी पहल की है। यूजीसी की ओर से जारी जानकारी में बताया गया कि देशभर के विवि व उच्च शिक्षण संस्थाओं में शिक्षकों के हजारों पद खाली पड़े हैं। जिसकी जानकारी किसी को नहीं है। यूजीसी ने अपने वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन कराने के साथ ही छात्रों को इन जगह के बारे में सीधें जानकारी प्राप्त कराने का इंतजाम किया है।
वेबसाइट पर उपलब्ध है 700 से अधिक विवि की जानकारी देश में मौजूदा समय में 712 ऐसी यूनिवर्सिटी है जिन्हें यूजीसी की मान्यता प्राप्त है। इनमें से 330 स्टेट यूनिवर्सिटी है, जबकि 128 डी ड है। वहीं 46 केन्द्रीय विवि के अलावा 208 प्राइवेट विवि शामिल है। इसके अलावा  हजारों राजकीय व एडेड डिग्री कॉलेजों  शामिल है। जहां की जानकारी यूजीसी अपने वेबसाइट के माध्यम से छात्रों को देगी। अभ्यर्थी यूजीसी की वेबसाइट पर पीएचडी, नेट-जेआरएफ और सेट (स्टेट एजिलिबिलिटी टेस्ट) धारक कैंडीडेट्स रजिस्ट्रेशन करा सकते है।

Pin It