विरोध के बाद भी नहीं हटाई जा रहीं शराब की दुकानें

रिहायशी क्षेत्रों में खुले शराब के ठेकों की वजह से क्षेत्रीय लोगों को आये दिन किसी न किसी समस्या का सामना करना पड़ता है। अक्सर लोग शराब पीकर सडक़ पर चल रहे राहगीरों के लिए समस्या बन जाते हैं। इसकी वजह से राह चलते दंगे होते हैं तो कई जगहों का माहौल बिगड़ता है। इस पर हमारी संवाददाता ऐश्वर्या गुप्ता ने जानी लखनऊवाइट्स की राय…7

Pin It