विपक्ष का हंगामा, सदन कल तक के लिए स्थगित

विधानसभा में 19 हजार करोड़ का सप्लीमेंट्री बजट पेश

मुख्यमंत्री ने पेश किया अब तक का सबसे बड़ा अनुपूरक बजट, कहा प्रदेश का हो रहा है विकास
N1बसपा और भाजपा का कानून व्यवस्था को लेकर भारी हंगामा, दो बार हुआ सदन स्थगित

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। जैसा कि अनुमान था वैसा ही हुआ। आज विधान सभा जैसे ही शुरू हुई बसपा नेताओं ने भारी हंगामा शुरू कर दिया। कानून व्यवस्था को लेकर दोनों सदनों में भारी नारेबाजी हुई और सदस्यों ने तख्तियां लहराई। इसके बाद सदन स्थगित किया गया। दुबारा सदन के शुरू होते ही फिर हंगामा शुरू हो गया। हंगामें के बीच ही मुख्यमंत्री ने 19824.98 करोड़ का बजट पेश किया। लोकदल के विधायक ने अलग राज्य की मांग करते हुए सदन में ही अपने कपड़े उतार दिए, जिससे हंगामा मच गया।
हंगामे के बाद पत्रकारों से बात करते हुए नेता प्रतिपक्ष स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि यह सरकार गुंडे-माफियाओं की सरकार है और इसमें अपराधियों का बोल-बाला है। उन्होंने कहा कि जिस तरह बाराबंकी में एक महिला को जिंदा जला दिया गया। हमीरपुर में छेड़छाड़ से परेशान एक किशोरी ने आत्मदाह कर दिया। यह घटनाएं बता रही हैं कि प्रदेश में कानून का राज्य खत्म हो गया है।
भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीमांत बाजपेयी ने कहा कि सरकार भ्रष्टïाचार से लेकर कानून व्यवस्था के मुद्दे पर पूरी तरह फेल है। बिजली की समस्या लगातार विकराल होती जा रही है, जब तक आम आदमी को राहत नहीं मिलेगी तब तक हम सदन नहीं चलने देंगे।
कांग्रेस के नेता प्रदीप माथुर ने कहा कि बिजली समस्या से आम आदमी बेहद परेशान है और कानून व्यवस्था लगातार खराब होती जा रही है। कांग्रेस ऐसी सरकार का हर स्तर पर विरोध करती रहेगी।
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि प्रदेश सरकार बेहतर काम कर रही है और विकास की योजनाए लगातार बढ़ रही है। विपक्ष इन विकास कार्यों से बौखलाया हुआ है और अनर्गल आरोप लगा रहा है। उन्होंने कहा कि गांव से शहरों तक विकास की योजनाओं को लोग सराह रहे हैं और इस सरकार की बातों पर यकीन कर रहे हैं क्योकि हमने जो घोषणा पत्र में कहा था वहीं करके दिखा दिया। उन्होंने विश्वास दिलाया कि विकास की यह यात्रा जारी रहेगी।

सदन के बाहर कांग्रेस का प्रदर्शन

उत्तर प्रदेश के विधानसभा के मानसून सत्र के दूसरे दिन विपक्षी पार्टियों ने जबर्दस्त हंगामा किया। सदन के अंदर जहां भाजपा, बसपा व कांग्रेसियों ने हंगामा किया तो हजारों की संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दोपहर को विधानसभा का घेराव कर सरकार के खिलाफ जमकर नारेेबाजी की। इस अवसर पूरे प्रदेश से कांग्रेस के कार्यकर्ता इक_ïा हुए और प्रदेश में कानून व्यवस्था, गन्ना किसानों का बकाया सहित अनेक मुद्दों पर सरकार को घेरा।

Pin It