विधायक वकार अहमद की सदस्यता रद्ïद करने के लिए याचिका

लखनऊ। बहराइच सदर से समाजवादी पार्टी के विधायक वकार अहमद शाह जो समाजवादी पार्टी के सत्ता में आने पर मंत्री बनाए गए थे लेकिन कुछ महीनों के बाद ही कोमा में चले गए थे, उनकी विधायक की सदस्यता रद्द करने के लिए हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में याचिका दायर की गई, जिसमें अनुच्छेद 190(4) के तहत यह बात कही गई है कि विधानसभा की कार्यवाही से बिना अनुमति यदि कोई भी सदस्य 60 दिनों तक अनुपस्थित रहता है तो विधानसभा अध्यक्ष प्रस्ताव पास करवा कर वह सीट रिक्त घोषित कर सकता है। साथ ही अनुच्छेद 191(1)(बी) के तहत भी संविधान में यह व्यवस्था है कि जो व्यक्ति शारीरिक रूप से अक्षम है, उसकी सदस्यता रदद् की जा सकती है। वहीं अनुच्छेद 192 (2) के तहत राज्यपाल रामनाईक चुनाव आयोग की संस्तुति पर सीट को रिक्त घोषित कर सकते हैं। रमाकांत दीक्षित ने इस संबंध में हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। इस मामले की सुनवाई 30 अक्टूबर को होगी।

सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग कर्मियों को दो महीने से नहीं मिला वेतन

लखनऊ। दीपावली का त्यौहार सिर पर है और सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग के कर्मचारी वेतन को तरस रहे हैं। कर्मचारियों का कहना है कि मुख्यालय के अधिकारियों और कर्मचारियों को तो वेतन मिल रहा है लेकिन अन्य कार्यालयों में वेतन नहीं मिल रहा है। इसका मुख्य कारण उच्च अधिकारियों की लापरवाही है। उच्च अधिकारी उनकी समस्याओं की तरफ ध्यान नहीं दे रहे हैं।

Pin It