विद्यालय प्रबंध समिति कराएगी प्राइमरी स्कूलों की परीक्षा

परीक्षा में पारदर्शिता की होगी जिम्मेदारी जरूरी सावधानी के प्रति शासन ने चेताया

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्राथमिक विद्यालयों की परीक्षा विद्यालय प्रबंध समिति के पर्यवेक्षण में कराये जाने का निर्णय लिया गया है। शासन ने निर्देश जारी करते हुए परीक्षा को पारदर्शिता के साथ सम्पन्न कराने के लिए शिक्षा से जुड़े अधिकारियों के सचल दस्ते बनाए जाने और पूरी व्यवस्था के साथ समिति को इसे अपने निरीक्षण में कराने की हिदायत दी है।
इस संबंध में शासन के प्रवक्ता ने बताया कि सचिव, बेसिक शिक्षा आशीष कुमार गोयल ने निर्देश दिए हैं कि प्रदेश में संचालित प्राथमिक विद्यालयों की परीक्षा व्यवस्था विद्यालय प्रबन्ध समिति के पर्यवेक्षण में कराई जाये। समिति के सदस्यों को परीक्षा कक्ष निरीक्षण हेतु अधिकृत किया जाये। इसके साथ ही जिले स्तर पर परीक्षाओं के प्रश्न पत्र, जिला शिक्षा एवं परीक्षण संस्थान में प्राचार्य, जिला शिक्षा की निगरानी में रखा जाए। साथ ही यह भी निर्देश दिए कि परीक्षा प्रारंभ होने से 3 दिन पूर्व प्राचार्य, जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान द्वारा सम्बन्धित शिक्षा खण्ड अधिकारी को उनके क्षेत्र के समस्त प्राथमिक विद्यालयों के लिए प्रश्न पत्रों के सील्ड पैकेट उपलब्ध कराये। सचिव, बेसिक शिक्षा ने यह भी निर्देश दिया हैं कि विद्यालय में परीक्षा आयोजित करने के लिए प्रधानाध्यापक एवं एक सहायक अध्यापक सम्बन्धित विद्यालय के होंगे। यदि जरूरत पड़ी तो दूसरे अध्यापकों की ड्यूटी आसपास के विद्यालयों से लगायी जा सकती है। उन्होंने निर्देश दिये कि खण्ड शिक्षा अधिकारी प्रत्येक विद्यालय के लिए अध्यापकों को चिन्हित करें और विद्यालयवार परीक्षा ड्यूटी लगाई जाएगी। उन्होंने कहा कि समस्त जिलाधिकारियों द्वारा बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों और अन्य विभाग के अधिकारियों के सचल दस्ते बनाए जाए जो परीक्षा के दौरान विद्यालय पूरी व्यवस्था को सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि सचल दस्ते के लिए वाहनों की व्यवस्था सम्बन्धित जनपद के जिलाधिकारी कराएंगे।

Pin It