‘विकास के लिए जरूरी है पूर्र्वांचल राज्य’

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। पूर्वांचल पीपुल्स पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनूप पाण्डेय ने पूर्वांचल विकास के लिए अलग राज्य के गठन की मांग की है। इसके साथ ही अप्रैल में काशी से पूर्वांचल राज्य की मांग को केन्द्र सरकार तक पहुंचाने के लिए राष्ट्रव्यापी आंदोलन शुरू करने की घोषणा कर दी है।
पीपीपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के मुताबिक पूर्वांचल में रहने वाली जनता का विकास करने के लिए पूर्वांचल राज्य का गठन अत्यंत जरूरी हो गया है। पूर्वी उत्तर प्रदेश में 27 जिले पिछड़ेपन की समस्या को झेल रहे हैं। इनमें से कुछ जिलों में रहने वाले लोग कभी बाढ़ तो कभी सूखा की समस्या झेलते रहते हैं। लेकिन उन जिलों का पुरसाहाल लेने वाला कोई नहीं है। जातिगत राजनीति और तुष्टिकरण की नीति के कारण पूर्वांचल के लोगों की लगातार उपेक्षा की जा रही है। इस वजह से जनता की समस्याओं को गंभीरता से लेकर सरकारें भी काम नहीं कर रही हैं। उन्होंने कहा कि पूर्वांचल के लोग पूरे देश के विकास में अहम भूमिका निभा रहे हैं लेकिन विकास के पैमाने पर पूर्वांचल अति पिछड़ा हुआ है। यहां के युवा रोजगार की तलाश में भटक रहे है। उन्हें अन्य प्रदेशों में पलायन करना पड़ रहा है। पूर्वांचल के अधिकतर कल-कारखाने बंद पड़े हैं। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष संजय सिंह ने कहा कि राजनीति के जरिये व्यक्तिगत पूंजी बनाना सर्वथा गलत है। इस तरह का काम करने वाले नेताओं पर लगाम लगनी चाहिए।

Pin It