वाराणसी में जल्द दौड़ेगी मेट्रो 4000 करोड़ का होगा निवेश

  • कैबिनेट की बैठक में मिली कई प्रस्तावों को मंजूरी
  • सीएम ने कहा विपक्ष भी अब करने लगा है विकास की चर्चा

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। सोमवार को सीएम अखिलेश यादव की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक ने वाराणसी मेट्रो रेल के डीपीआर (डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट) को मंजूरी दे दी है। इसके साथ कैबिनेट ने 6 मेगा यूनिटों के मेगा प्रोजेक्ट के रूप में सब्सिडी देने सहित कई रियायतें देने का फैसला किया है। कैबिनेट की इस मंजूरी के बाद प्रदेश में 4000 करोड़ रुपए के निवेश के आसार हैं।
कैबिनेट की बैठक के बाद सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि यूपी में हो रहे विकास कार्यों की चर्चा समाजवादी ही नहीं विपक्षी पार्टियां भी करती हैं। समाजवादी सरकार ने प्रदेश में तेजी से विकास कार्य कराए हैं। बिजली के लिए भी सरकार ने कई कदम उठाए हैं। यूपी में केंद्र सरकार के 73 सांसद हैं। हम बराबर यूपी का कोटा बढ़ाने की मांग कर रहे हैं, लेकिन उन्हें सुनाई नहीं दे रहा है। समाजवादी सरकार में बिजली का उत्पादन बढ़ा है। कैबिनेट में जिन परियोजनाओं को मंजूरी दी गई उसमें वाराणसी मेट्रो रेल परियोजना का डीपीआर, 6 मेगा यूनिटों के स्थापना और इसके लिए सैमसंग, एलजी, स्पर्श इंडस्ट्रीटज काम करेंगी। इन यूनिटों के स्थापित होने से 4000 करोड़ रुपए के निवेश के आसार हैं। इसके अलावा उद्योग नीति में गाइडलाइन संशोधन को मंजूरी दी गई। प्रदेश में 2 नए नगर निगम के साथ ही सीतापुर, इटावा की एक-एक तहसील को मॉडल तहसील बनाना, आगरा लखनऊ एक्स प्रेस वे के लिए कर्ज, आगरा थीम पार्क परियोजना से जुड़े पार्क निर्माण नीति के मसौदे को भी मंजूरी दी गई है। इसके अलावा खाद की लैमिनेटेड और गैर लैमिनेटेड बोरियों पर 5 फीसदी इंट्री टैक्स को मंजूरी दी गई है।

Pin It