वक्फ संपत्तियों का पूरा ब्योरा हुआ ऑनलाइन: आजम खां

  • कैबिनेट मंत्री आजम खां ने बटन दबाकर किया वेबसाइट का उद्घाटन

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
Captureलखनऊ । वक्फ संपत्तियों को अवैध कब्जों से मुक्त कराने के बाद उनको बचाकर बोर्ड में दर्ज कराने के उद्देश्य से शुक्रवार को शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने अपनी वेबसाइट लांच की। वेबसाइट पर प्रदेशभर की वक्फ संपत्तियों का विवरण ऑनलाइन होगा। साथ ही वक्फ से संबंधित किसी भी प्रकार की शिकायत के लिए वेब साइट डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट यूपीशियासी डब्ल्यूबी डॉट ओआरजी पर दिए हेल्पलाइन नंबर पर 24 घंटे की सुविधा दी गई है।
इंदिरा भवन के आठवें तल स्थित सभागार में शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड की नई वेबसाइट का उद्घाटन किया गया। नगर विकास मंत्री आजम खां ने बटन दबाकर वेबसाइट की शुरूआत की। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि मैं चौथी बार हज और वक्फ का मंत्री हूं। सरकार ने कानून से वक्फ संपत्तियों पर रह रहे किराएदारों से मौजूदा सर्किल रेट के हिसाब से किराया वसूल करने के लिए रेंट कंट्रोल लागू किया। वक्फ की बेशकीमती जमीन पर लोग कब्जा कर लेते हैं इसके बाद अदालत का दरवाजा खटखटाया जाता है। वक्फ के पास कब्जा होने के समय इसको रोकने का कोई रास्ता नहीं है। वक्फ संपत्तियों पर कब्जा गैर जमानती अपराध की श्रेणी में होना चाहिए। बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने कहा कि 14 महीनों में बोर्ड ने वेबसाइट बनाकर एक बड़ी कामयाबी हासिल की है। वेबसाइट पर संपत्तियां अपलोड होंगी। पूरा ब्योरा ऑनलाइन होगा। उन्होंने कहा कि यह पहली बार है कि जब वक्फ मंत्री बोर्ड कार्यालय आए हैं। ऑल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड के उपाध्यक्ष मौलाना डॉ. कल्बे सादिक ने कहा कि औकाफ (वक्फ संपत्ति) की हालत बहुत खराब है। वक्फ को बचाने की हर कोशिश में मैं कैबिनेट मंत्री आजम खां व बोर्ड अध्यक्ष वसीम रिजवी के साथ हूं। बोर्ड की संपत्तियों के ऑनलाइन होने से बहुत फायदा मिलेगा। इस मौके पर ल्पसंख्यक कल्याण एवं वक्फ सचिव एसपी सिंह, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के अध्यक्ष जावेद आब्दी, बोर्ड के मुख्य कार्यपालक अधिकारी जीशान रिजवी, सदस्य मौलाना आजिम हुसैन जैदी व अफशा जैदी सहित कई लोग शामिल रहे।

Pin It