लोहिया में संविदा कर्मियों ने शुरू किया कार्य बहिष्कार

  • संस्थान में दो घंटे तक ठप रहा मरीजों का इलाज 

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राजधानी के डॉ. राममनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में संविदा कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लेकर आज दो घंटे का कार्य बहिष्कार किया है। बीते पांच तारीख से लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में लगभग 600 संविदा कर्मचारी काला फीता बांधकर अपना विरोध दर्ज करा रहे थे। उसके बाद भी उनकी मांगे शासन ने नहीं मानी हैं। इसलिए संविदा कर्मियों ने मांगे न पूरी होने तक प्रत्येक कार्य दिवस में दो घंटे का कार्य बहिष्कार करने का निर्णय लिया है।
लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में आज सुबह 8 बजे से 10 बजे तक संविदा कर्मियों का कार्यबहिष्कार चला। इसमें सैकड़ों कर्मचारी शामिल रहे । इस दौरान इलाज के लिए आए मरीजों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा । संविदा कर्मचारियों का कहना है कि 10 तारीख तक मरीजों की समस्याओं को देखते हुए दो घंटे का ही कार्यबहिष्कार किया जायेगा। यदि हमारी मांगे तब भी नही मानी गईं। तो पूर्ण रूप से कार्य बहिष्कार करने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।
संविदा कर्मचारियों की मांगें
संविदा कर्मचारियों का कहना है कि महंगाई को देखते हुए उनका वेतन बढ़ाया जाना चाहिए। वर्तमान समय में पांच से सात हजार रुपये वेतन मिलता है, जो परिवार का भरण पोषण करने के लिए पर्याप्त नहीं है। इसके साथ ही उनको नियमित किया जाना चाहिए।

कार्य बहिष्कार करने वाले सभी कर्मचारी आउटसोर्सिंग पर है। इनके वेतन को बढ़ाये जाने की बात शासन स्तर पर हो रही है। लेकिन जहां तक इन कर्मचारियों को नियमित करने की मांग है। वो अनुचित है।
प्रो. दीपक मालवीय
निदेशक डॉ.राममनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान

Pin It