लोकतांत्रिक बहुजन समाज मंच पर सबको साथ लाने की तैयारी

  • बसपा से अलग होने वालों को एक सूत्र में जोडऩे की कोशिश कर रहे स्वामी प्रसाद मौर्या

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। बसपा के बागी नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ने अपनी अलग राजनीतिक पार्टी बनाने की बजाय लोकतांत्रिक बहुजन मंच का गठन किया है। मंच के बैनर तले आगामी 22 सिंतबर को लखनऊ में रैली होगी और जिले व मंडल स्तर पर पदाधिकारियों की तैनाती भी होगी। इसके अलावा मंच पर सभी छोटी पार्टियों को लाने की कोशिश की जायेगी।
स्वामी प्रसाद मौर्य ने पत्रकार वार्ता के माध्यम से बताया कि बसपा के असंतुष्टों को जोडऩे के साथ पिछड़ों व दलितों के शुभचिंतकों को अभियान में शामिल किया जाएगा। उन्होंने मंडल स्तर पर तीन पदाधिकारी अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और महामंत्री नियुक्त करने और उनको जिला व विधानसभा स्तर पर कमेटियों के गठन का जिम्मा सौंपा है। उन्होंने सर्वसमाज को प्रतिनिधित्व देने की बात भी कही। मौर्य ने बताया कि लखनऊ के रमाबाई मैदान पर 22 सितंबर को होने वाली विशाल महारैली कामयाब बनाने के लिए मंडलवार दौरे भी करेंगे। वह 31 जुलाई से मंडलों का दौरा शुरू होंगे। प्रथम चरण में पूर्वाचल के मंडलों में भ्रमण किया जाएगा। इसके अलावा पश्चिमी उप्र व बुंदेलखंड का कार्यक्रम फाइनल करने के लिए 24 जुलाई को समर्थकों की बैठक में आगामी रणनीति पर चर्चा भी होगी। मौर्य ने बताया कि आरके चौधरी व बाबू सिंह कुशवाहा के अतिरिक्त कई नेताओं से बातचीत जारी है। अब तक कुछ भी तय नहीं है लेकिन 22 सितंबर को रैली में सब साफ हो जाएगा और प्रदेश की राजनीतिक दिशा को मोडऩे के लिए अहम फैसले लिए जाएंगे।

Pin It