लखनऊ के बाद अब कानपुर में भी दौड़ेगी मेट्रो सीएम ने किया शिलान्यास

  • सीएम अखिलेश यादव ने कानपुर पर की तोहफों की बौछार
  • 15272.92 करोड़ की परियोजनाओं का किया शिलान्यास व लोकार्पण
  • केन्द्रीय मंत्री वेंकैया नायडू भी रहे मौजूद
  • 300 से अधिक लोगों को ई-रिक्शा वितरित

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
4-oct-page-31लखनऊ। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज पालिका स्टेडियम बेनाझाबर में कानपुर मेट्रो समेत 115 योजनाओं का शिलान्यास किया। मेट्रो प्रोजेक्ट मुख्यमंत्री का ड्रीम प्रोजेक्ट है। इस मौके पर केंद्रीय शहरी एवं विकास मंत्री वेंकैया नायडू भी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री ने 13721 करोड़ के मेट्रो प्रोजेक्ट समेत कुल 15272.92 करोड़ के कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री अपने निर्धारित समय पर कार्यक्रम में पहुंचे। सीएम ने इसके साथ 78 कार्यों का लोकार्पण भी किया। इनमें फूलबाग और मोतीझील बाल उद्यान का सुंदरीकरण, मोतीझील स्थित म्यूजिकल फाउंटेन का लोकार्पण प्रमुख है। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर 300 से अधिक लोगों को ई-रिक्शा का वितरण भी किया।

केडीए उपाध्यक्ष जयश्री की मेहनत लाई रंग

कानपुर विकास प्राधिकरण की उपाध्यक्ष जयश्री भोज के अथक प्रयासों की वजह से मेट्रो के शिलान्यास से जुड़ी तैयारियां जल्दी पूरी हो पाईं। सीएम की इच्छा थी कि कानपुर में मेट्रो की शुरुआत जल्दी हो। मेट्रो की शुरुआत में इतनी औपचारिकताएं होती हैं कि यह संभव नहीं हो पा रहा था कि मेट्रो इतनी जल्दी शुरू हो पायेगी। इसके बाद कमान केडीए की तेजतर्रार उपाध्यक्ष जयश्री भोज ने संभाली। उनके प्रयासों से आज कानपुर में मेट्रो का शिलान्यास संभव हो सका। जयश्री भोज के कानपुर में तैनात होने के बाद कानपुर विकास प्राधिकरण के विकास कार्य लगातार सुर्खियों में बने रहे हैं और वहां के लोग केडीए उपाध्यक्ष के कार्यों की सराहना करते रहते हैं।

नई बिल्डिंग में हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच का न्यायिक कार्य शुरू

  • राज्यपाल राम नाईक ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की मौजूदगी में किया ध्वजारोहण

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राजधानी लखनऊ में आज नयी बिल्डिंग में इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच का कामकाज शुरू हो गया है। न्यायिक कार्य शुरू होने के पहले राज्यपाल राम नाईक ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की मौजूदगी में ध्वजारोहण किया। ध्वजारोहण के समय अधिवक्ताओं ने भारत माता के जय का उद्घोष किया। इस दौरान महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण भी किया गया। कार्यक्रम में इलाहाबाद हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश समेत कई न्यायाधीश मौजूद रहे। लखनऊ हाईकोर्ट की नई बिल्ंिडग गोमती नगर में बनायी गई है। इसका निर्माण करीब 1300 करोड़ की लागत से हुआ है। अब सभी मामलों की सुनवाई नए परिसर में की जाएगी। इसी के साथ कैसरबाग स्थित उच्च न्यायालय के पुराने परिसर को बंद कर दिया गया है।

शहीद नितिन के अंतिम संस्कार में पहुंचे शिवपाल, 20 लाख की मदद का ऐलान

  • राजकीय सम्मान के साथ बारामुला में शहीद हुए जवान को दी श्रद्धांजलि

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उड़ी में आतंकी अटैक के बाद भारतीय सेना की सर्जिकल स्ट्राइक से बौखलाये पाक समर्थित आतंकियों के बारामुला में किए गए हमले में बीएसएफ जवान नितिन यादव शहीद हो गए। वह इटावा चौबिया के नगलाबारी के निवासी थे। आज सुबह शहीद जवान की अंतिम यात्रा में प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री और सपा के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव भी पहुंचे। उन्होंने शहीद को श्रद्घांंजलि देने के साथ ही परिवार को 20 लाख रुपये और जवान के नाम पर पार्क व सडक़ बनवाने की घोषणा की।
पाकिस्तान समर्थिक आतंकवादियों ने उड़ी हमले के बाद बारामुला में भी 46 राष्ट्रीय राइफल्स के कैंप पर हमला बोला था। आतंकियों के इस हमले में बीएसएफ का जवान नितिन यादव भी शहीद हो गया था जो इटावा का रहने वाला था। शहीद नितिन की 2013 में बीएसएफ में भर्ती हुई थी। उसकी उम्र महज 24 वर्ष थी और हाल ही में उसकी तैनाती बारामुला में हुई थी।

अमौसी एयरपोर्ट पर नवाज के पास मिला कारतूस, हडक़ंप

  • पूछताछ के बाद छोड़ा, लखनऊ से जा रहा था मुंबई

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। अमौसी एयरपोर्ट पर पुलिस ने एक व्यक्ति को कारतूस के साथ पकड़ा। एयरपोर्ट पर कारतूस मिलने की सूचना से अफरा-तफरी मच गई। हालांकि पुलिस ने व्यक्ति को पूछताछ के बाद छोड़ दिया है। गौरतलब है कि उड़ी में हुए आतंकी हमले के बाद पूरे देश में हाई अलर्ट है। इसके तरह हवाई अड्डïे समेत सार्वजनिक स्थलों पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।
जानकारी के अनुसार सरोजनी नगर थाना क्षेत्र स्थित चौधरी चरण सिंह अमौसी एयरपोर्ट में उस समय हडक़ंप मच गया जब एयरपोर्ट पर तैनात सुरक्षाकर्मियों ने चेकिंग के दौरान आजमगढ़ निवासी शेख नवाज पुत्र आफताब आलम को एक जिंदा कारतूस के साथ हिरासत में ले लिया। हिरासत में लिए गए व्यक्ति के पास से 0.32 बोर का कारतूस बरामद हुआ। सुरक्षाकर्मियों ने लंबी पूछताछ के बाद उसे छोड़ दिया। पुलिस ने बताया कि पूछताछ पर पता चला कि नवाज के पास वैलिड लाइसेंस है। लिहाजा उसे छोड़ दिया गया। नवाज लखनऊ से मुम्बई जा रहा था।

Pin It