रोजगारपरक शिक्षा से दूर होगी बरोजगारी: सीएम अखिलेश

सीएम ने एक हजार प्रशिक्षार्थियों में वितरित किया नियुक्ति पत्र
100 छात्राओं को दिया गया कन्या विद्या धन योजना का चेक

Capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने आगरा भ्रमण के अवसर पर विश्व प्रसिद्ध ताजमहल की पृष्ठभूमि में ताजनेचर वॉक में आयोजित युवा रोजगार मेला, कौशल विकास प्रदर्शनी, प्रतिष्ठित संस्थानों के साथ प्रशिक्षण व सेवायोजन हेतु एमओयू हस्तान्तरण तथा आईटीआई. एवं उप्र कौशल विकास मिशन के सेवायोजित 1000 प्रशिक्षार्थियों को नियुक्ति पत्र वितरण किया। इस अवसर पर अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश की समाजवादी सरकार युवाओं को शिक्षा, कौशल और रोजगार देने के लिए कृत संकल्पित है। उन्होंने कहा कि बेरोजगारी एक राष्टï्रीय समस्या है और प्रदेश की वर्तमान सरकार रोजगारपरक शिक्षा के माध्यम से बरोजगारी की समस्या के स्थाई समाधान हेतु प्रयासरत है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य है, जहां कौशल विकास नीति लागू की गई है तथा युवाओं को रोजगार हेतु प्रशिक्षित करने की दृष्टि से प्रदेश में कौशल विकास मिशन का गठन किया गया, ताकि युवाओं की रोजगार क्षमता एवं सेवायोजन योग्यता बढ़ाई जा सके। औद्योगिक विकास के वर्तमान युग में भारत सहित विश्व के अधिकांश देशों में कुशल कामगारों की अत्यधिक मांग है और उस मांग के अनुरूप मानवशक्ति की आपूर्ति करना एक बड़ी चुनौती है। हमारा देश और विशेषकर उत्तर प्रदेश, जहां सबसे अधिक संख्या में युवा रहते हैं, इस चुनौती को एक अवसर के रूप में स्वीकार कर युवाओं की बेरोजगारी की समस्या को दूर कर सकता है। इस अवसर पर श्री यादव ने 100 छात्राओं को कन्या विद्या धन योजना के तहत प्रति छात्रा 30 हजार रुपए की धनराशि के चेकों का वितरण किया। मुख्यमंत्री ने दक्षिणांचल विद्युत वितरण निगम लि. द्वारा एल.ई.डी. बल्बों के वितरण का शुभारम्भ भी किया। युवा रोजगार मेले में मिशन और सेवादाता कंपनियों जैसे टेक महिन्द्रा एवं सेलेक्ट जॉब्स, जावेद हबीब अकेडमी, ओला कैब्स, मिड मार्क कॉर्पोरेशन, जनक हेल्थ केयर मुम्बई, हैण्ड डिजायन प्रा.लि. आदि कंपनियों के साथ एमओयू का हस्तान्तरण किया गया। इस अवसर पर व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास राज्यमंत्री प्रो. अभिषेक मिश्रा, राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार)रामसकल गूजर, रामजीलाल सुमन सहित शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी व भारी संख्या में कौशल विकास मिशन के प्रशिक्षार्थी उपस्थित रहे।

Pin It