राहत की ओर

Capture.JPG.1

राहत की ओर: उड़ते परिंदे जब जेठ की तपती गर्मी से परेशान होकर और अपनी प्यास बुझाने की सोचने लगे तो उनको एक रास्ता नजर आया कि अब इसी तालाब में प्यास भी बुझ सकती है और यहीं गर्मी से भी राहत मिल सकती है इसलिये वह यहीं रुक गये….    फोटो : सुमित कुमार

Pin It