राष्ट्रीय महिला आयोग टीम ने किया बाल संरक्षण गृह का दौरा

टीम में शामिल हैं सदस्य और लीगल कंसलटेंट
तीन सदस्यीय टीम देखेगी संरक्षण गृह का हाल

Capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राजधानी के मोतीनगर स्थित राजकीय बाल संरक्षण गृह में लड़कियों के प्रेग्नेंट होने का मामला तूल पकड़ चुका है। इस मामले की जांच करने के लिए नेशनल कमीशन फॉर वीमेन (एनसीडब्ल्यू) की तीन सदस्यीय टीम लखनऊ आ गई है। यह टीम आज सुबह संरक्षण गृह पहुंची और मामले से जुड़े सूत्रों की तहकीकात कर रही है।
एनसीडब्ल्यू की तीन सदस्यीय टीम में वीमेन कमीशन की मेंबर रेखा शर्मा, रेनू भाटिया और एक लीगल कंसलटेंट अवनि बाहरी शामिल हैं। यह टीम उन परिस्थितियों की जांच करेगी, जिसमें पहले तो बालिग लड़कियां संरक्षण गृह में रखी गईं और फिर बाद में तीन लड़कियां प्रेग्नेंट पाई गईं। पिछले सप्ताह राजधानी के मोतीनगर बालिका संरक्षण गृह में रहने वाली एक लडक़ी के प्रेग्नेंट होने का मामला सामने आया। उसे तबीयत बिगडऩे पर डफरिन हॉस्पिटल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया। जांच के दौरान पता चला कि लडक़ी प्रेग्नेंट है। इसके बाद बालिका संरक्षण गृह में हडक़ंप मच गया। यह मामला शांत पड़ा नहीं था कि बीते बुधवार को जांच के दौरान दो और युवतियों के प्रेग्नेंट होने की मेडिकल रिपोर्ट्स सामने आई। दोनों संवासिनियों को बरेली महिला संरक्षण गृह से कुछ दिन पहले ही लखनऊ ट्रांसफर किया गया था।

Pin It