रायबरेली में मुकेश की दावेदारी से रोचक हुआ चुनाव

समाजसेवा के बल पर जननेता के तौर पर उभरे मुकेश
समाजवादी पाटी्र्र के दांव से विपक्षी खेमें में मची खलबली

Capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। सपा ने रायबरेली से विधान परिषद चुनाव के लिए अपना दांव मुकेश बहादुर सिंह पर लगया है। मुकेश हमेशा से पार्टी के जुझारू कार्यकर्ता और जमीनी नेता के रूप में जाने जाते रहे हैं। इसके साथ ही वह मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के युवा विंग के भी अहम सदस्य हैं। सपा के इस निर्णय के बाद से ही रायबरेली में विधान परिषद सदस्य के लिए लड़ाई रोचक हो गई है। जिसपर प्रदेश भर के नेतओं की निगाह है।
गौरतलब है कि रायबरेली में मुकेश सिंह की दावेदारी के बाद यहां बाकी खेमों में खलबली मच गयी है। समाजसेवा के बल पर जननेता के तौर पर उभरे मुकेश रायबरेली में आम लोगों के बीच काफी लोकप्रिय हैं। मुकेश हमेशा से ही जमीनी नेता के तौर पर कार्य करते रहे क्षेत्र में किसी को भी कोई दिक्कत होती तो मुकेश बिना कहे उनकी सहायता के लिये पहुंच जाते। इसके साथ ही उनका नेटवर्क भी बहुत मजबूत है। इसी नेटवर्क और समाजसेवा को ध्यान में रखते हुये सपा ने उन्हें अपना उम्मीदवार घोषित किया है। सपा से टिकट पाने के बाद से ही चुनाव में जीत के लिए मुकेश सक्रिय हो गये हैं। मुकेश का कहना है कि इस चुनाव में जीत दर्ज कराकर वह पार्टी हाईकमान द्वारा जताए गए भरोसे पर खरा उतरेंगे। उन्होंने कहा कि चुनाव में वह राजनीतिक शुचिता का पूरा ख्याल रखेंगे और मतदाताओं के भरोसे पर ही चुनाव लड़ेंगे। साथ ही पार्टी हाईकमान के आदेश के बाद से ही रायबरेली में सपा कार्यकर्ता पूरे दम के साथ अपने जन लोकप्रिय नेता
को जिताने में जुट गये हैं। जो भी हो लेकिन सपा के इस दांव से रायबरेली का चुनाव काफी रोचक हो गया है। जिसपर पूरे प्रदेश भर की निगाह बनी हुयी है।

Pin It