रामतीरथ वार्ड में चुनाव प्रचार शुरू

वार्ड से कुल छह अभ्यर्थियों ने भरा है नामांकन पत्र
नामांकन पत्रों की जांच में जुटे निर्वाचन अधिकारी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। रामतीरथ वार्ड में पार्षद पद का उपचुनाव रोचक होने की उम्मीद है। इसमें भारतीय जनता पार्टी और समाजवादी पार्टी के उम्मीदवारों के बीच कड़ी टक्कर मानी जा रही है। सोमवार को वार्ड के पार्षद पद के लिए छह लोगों ने नामांकन पत्र दाखिल कर दिया। अब सभी प्रत्याशी चुनाव प्रचार में जुट गये हैं। हालांकि आज नामांकन पत्रों की जांच की जा रही है। उम्मीदवार 21 जनवरी तक अपना नामांकन पत्र वापस ले सकते हैं लेकिन वार्ड में अभी से चुनावी माहौल दिखने लगा है।
रामतीरथ वार्ड से पार्षद पद के उपचुनाव में सपा की तरफ से दिवंगत पूर्व पार्षद बंटू यादव की पत्नी दुर्गेश नंदिनी को उम्मीदवार बनाया गया है। दुर्गेश नंदिनी ने सोमवार को अपने समर्थकों के साथ कलेक्ट्रेट पहुंचकर नामांकन पत्र दाखिल कर दिया।।इसके अलावा बीजेपी की तरफ से शिवशंकर शर्मा को प्रत्याशी बनाया गया है। वह पूर्व में भी वार्ड से पार्षद का चुनाव लड़ चुके हैं। इसी प्रकार कांग्रेस ने सौरभ सिंह को पार्षद पद का उम्मीदवार बनाया है। सौरभ ने भी नामांकन पत्र दाखिल कर दिया है। इसके अलावा सोशलिस्ट पार्टी से विनोद कुमार त्रिवेदी ने भी पर्चा दाखिल किया है, जबकि नन्दन रानी यादव और पंकज चटर्जी ने निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में नामांकन पत्र दाखिल कर दिया है। नामांकन के दौरान प्रशासन की तरफ से सुरक्षा व्यवस्था के पर्याप्त इंतजाम किए गए थे। इसके बावजूद प्रत्याशियों और उनके समर्थकों के बीच नोक-झोंक हो गई, जिसे मौके पर मौजूद पुलिस कर्मियों ने शांत करवाया।
गौरतलब हो कि कलेक्ट्रेट स्थित कक्ष संख्या 3 में नामांकन की प्रक्रिया चल रही है। निर्वाचन में डॉ. संजीव कुमार रिटर्निंग ऑफीसर और डा. विनोद कुमार तथा डॉ. जयपाल को सहायक रिटर्निंग ऑफीसर बनाया गया है। प्रत्याशियों ने नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद से ही जनता का समर्थन हासिल करने और क्षेत्र में घूम-घूम कर चुनाव प्रचार करना शुरू कर दिया है। राजनीतिक विश्लेषकों की मानें तो सपा की उम्मीदवार दुर्गेश नंदिनी को अपने पति बंटू की हत्या होने के कारण जनता की हमदर्दी मिलेगी। जबकि बीजेपी ने पूर्व प्रत्याशी शिवशंकर शर्मा को दोबारा पार्षद का चुनाव लडऩे का मौका दिया है। वह बंटू की हत्या के बाद से ही जनता के बीच अपनी पैठ बनाने में जुट गये थे। इसलिए भाजपा को अपने प्रत्याशी के पक्ष में लोगों का वोट मिलने की उम्मीद है। वहीं कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार सौरभ सिंह भी चुनाव में अपनी पूरी ताकत झोंकने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं। ऐसे में रामतीरथ वार्ड के पार्षद का उपचुनाव रोचक होना तय है। सहायक निर्वाचन अधिकारी डा. जयपाल के मुताबिक नामांकन पत्र दाखिल हो चुके हैं। आज नामांकन पत्रों की जांच की जा रही है। 21 जनवरी को अभ्यर्थी अपना नामांकन पत्र वापस ले सकते हैं। 22 जनवरी को चुनाव चिह्न जारी किये जायेंगे। इसके बाद 7 फरवरी को मतदान और 9 फरवरी को वोटों की गिनती की जायेगी।

Pin It