‘राज्यपाल को बर्खास्त करे केंद्र’

लखनऊ। समाजवादी पार्टी में राष्ट्रीय महासचिव राम गोपाल यादव ने यूपी की नौकरशाही में एक खास जाति को तवज्जो दिए जाने से जुड़े सूबे के गवर्नर राम नाइक के बयान पर नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने कहा है कि इस बयान से राज्यपाल पद की गरिमा गिर गई है। इस पद पर आसीन होने वाले व्यक्ति को महामहिम कहकर संबोधित करना शर्मनाक लगने लगा है। यादव के मुताबिक यूपी सरकार के खिलाफ बयानबाजी के चलते गवर्नर पद की गरिमा गिर गई है।
राम गोपाल यादव ने पीएम से अपील करते हुए कहा, ‘राम नाइक को पद से हटाकर 2017 में होने वाले यूपी विधानसभा चुनाव में बीजेपी की तरफ से उम्मीदवार घोषित करें, ताकि वे बेशर्मी के साथ सरकार के खिलाफ बयानबाजी भी कर सकें। केंद्र सरकार गर्वनर को तत्काल बर्खास्त करे।’ उन्होंने कहा कि राज्यपाल के बयान को मानसिक दिवालिएपन का सबूत करार दिया है। राज्यपाल रोजाना सरकार के खिलाफ कुछ न कुछ बयान देते रहते हैं। यह ठीक नहीं है। रामगोपाल यादव ने ब्योरा देते हुए कहा कि यूपी में प्रमुख सचिव के 53 पद में एक यादव, सचिव के 21 पद में दो, विशेष सचिव के 68 पद में एक, मंडलायुक्त के 17 में से एक, निदेशक/प्रबंध निदेशक के 28 में से दो, जिलाधिकारी के 75 पद में से आठ, मुख्य विकास अधिकारी के 25 पद में छह यादव जाति के तैनात हैं।

किशोरी से गैंगरेप
लखनऊ। मडिय़ावं थाना क्षेत्र में देर शाम घर लौट रही एक किशोरी को अगवा कर दरिन्दों ने गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया। पीडि़ता की सूचना पर पुलिस मामले की जांच कर रही है।
मडिय़ावं थाना क्षेत्र के गौरभीट निवासी 17 वर्षीय किशोरी सोमवार को अपने भाभी के घर गई थी। वापस आने पर उसे रास्ते में देर हो गई। किशोरी ने बताया कि बगिया रास्ते से वह अपने घर लौट रही थी तभी वहां पर मौजूद चार युवकों ने उसे अगवा कर लिया। युवकों ने किशोरी का मुंह बंद कर दिया। किशोरी ने बताया कि युवकों ने उसके साथ गैंगरेप किया और बदहवाश हालत में छोडक़र फरार हो गये।

Pin It