राजधानी में नये राशन कार्ड के इंतजार में 3.5 लाख परिवार

जिले में नए राशन कार्ड मिलने का इंतजार कर रहे लाखों परिवार

Capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। जिले में नये राशन कार्ड जारी करने का काम ठप है। आपूर्ति विभाग और राशन कार्ड की प्रिङ्क्षटग करने वाली संस्था अपनी सहूलियत के मुताबिक काम कर रही है। इस कारण 30 दिसंबर तक सबको नए राशन कार्ड देने की कोशिशों पर पानी फिर गया है। अपनी गलतियां छिपाने के लिए आपूर्ति विभाग नए राशन कार्ड बांटने की तिथि गुपचुप तरीके से बढ़ा दी है। इसके पीछे कर्मचारियों की निर्वाचन कार्य में व्यस्तता को बताया गया है।
राजधानी में कार्ड धारकों की संख्या नौ लाख 56 हजार 911 है। इसमें करीब साढ़े छह लाख परिवारों को नये राशन कार्ड मिल चुके हैं लेकिन शेष परिवार अभी भी राशन कार्ड मिलने का इंतजार कर रहे हैं। इस संबंध में आवेदक क्षेत्रीय कार्यालय और कोटेदार से संपर्क करते हैं, तो उन्हें स्पष्ट बोल दिया जाता है कि जब राशन कार्ड बन जायेगा। तब स्वत: आपको मिल जायेगा। इस कारण करीब साढ़े तीन लाख परिवार नया राशन कार्ड मिलने का इंतजार कर रहे हैं। यह इंतजार कब खत्म होगा। इस बारे में जिम्मेदार अधिकारी कुछ भी बताने की बजाय चुप्पी साधे हुए हैं। आंकड़ों पर गौर करें तो आपूर्ति विभाग अब तक चार लाख 93 हजार 512 एपीएल, 21 हजार 412 बीपीएल और 20 हजार 201 परिवारों को अंत्योदय राशन कार्ड बांटा जा चुका है। जबकि लखनऊ में एपीएल कार्डधारक परिवारों की संख्या आठ लाख 25 हजार 602, बीपीएल कार्ड धारक परिवारों की संख्या 81 हजार 197 और अंत्योदय कार्ड धारक परिवारों की संख्या 50 हजार 112 है। इस तरह करीब साढ़े तीन लाख परिवारों को नए राशन कार्ड मिलने का इंतजार है।
जिला आपूर्ति अधिकारी सीके ओझा ने बताया कि शासन स्तर से अंत्योदय और बीपीएल कार्ड धारकों को नया राशन कार्ड जारी करने का निर्देश दिया था। नये राशन कार्ड जारी करने से पहले करीब छह महीने तक डाटा एंट्री का काम करवाया गया। यह काम अभी भी चल रहा है, जिले में शत प्रतिशत परिवारों का आवेदन पत्र भरवाने और उनसे संबंधित डाटा आनलाइन फीड करवाने का काम चल रहा है। इसमें फीडिंग के दौरान होने वाली गड़बडिय़ों में सुधार का काम भी चल रहा है। इस प्रक्रिया को पूरा करने के बाद ही नए राशन कार्ड जारी करने का काम शुरु किया जाता है। जहां तक नये राशन कार्ड जारी करने का काम ठप होने की बात है, तो करीब दो महीने पहले खाद्य सुरक्षा अधिनियम का काम शुरु कराया गया था। इसी वजह से नया राशन कार्ड बनाने की गति धीमी हो गई। चुनाव में कर्मचारियों की व्यवस्तता के कारण भी काम प्रभावित हुआ है। फिलहाल नये राशन कार्ड जारी करने का काम तेजी से कराने के लिए सभी ब्लॉकों में कम्प्यूटर लगवा दिए गए हैं। यहां कम्प्यूटर ऑपरेटरों की तैनाती कर दी गई है। उम्मीद की जा रही है कि अगले दो महीनों में डाटा फीडिंग और आवेदन करने वाले सभी अर्ह परिवारों को नए राशन कार्ड बनाकर देने का काम पूरा कर लिया जायेगा।

Pin It