राजधानी में खुलेआम घूम रहे अपराधी रसूखदारों के आगे बौनी हुई पुलिस

  • बहन की हत्या के मामले में इंसाफ मांग रहे पीडि़त को टरका रही पुलिस
  • आरोपी के खिलाफ सबूत होने के बाद भी नहीं हो रही कार्रवाई

 आमिर अब्बास
7लखनऊ। लेडी सिंघम के नाम से मशहूर एसएसपी मंजिल सैनी को अपराधी लगातार चुनौती दे रहे हैं। उन्होंने जब से लखनऊ में एसएसपी का कार्यभार संभाला है, जिले में एक के बाद एक संगीन वारदातों को अंजाम देने में अपराधी कामयाब हुए हैं। इससे लोगों में बढ़ते अपराधों और अपराधियों का खौफ साफ नजर आने लगा है। आम जन अपनी सुरक्षा को लेकर चिन्तित हैं। जिन अपराधिक मामलों का खुलासा अब तक नहीं हो पाया है, उनके खुलासे का बेसब्री से इंतजार किया जा रहा है। इन्हीं में से एक मामला ठाकुरगंज थाना क्षेत्र का है, जिसमें अपनी पत्नी की हत्या का आरोपी रमजान बेग खुलेआम घूम रहा है। उसे कुछ रसूखदार लोगों का संरक्षण प्राप्त है। इसी वजह से पुलिस कार्रवाई करने से बच रही है। जबकि पीडि़त न्याय की आस में दर-दर भटक रहा है।
ठाकुरगंज के बालागंज स्थित पुराना तोपखाना निवासी सकीना बेग का विवाह करीब चार साल पहले चौक थाना क्षेत्र के फिरंगी महली गेट निवासी रमजान बेग से हुआ था। वह सुन्नी इंटर कालेज में टीचर है। सकीना के भाई आरिफ बेग ने बताया कि विवाह के बाद से ही रमजान दहेज को लेकर अकसर विवाद किया करता था। जिसको लेकर कई बार उसने सकीना को बंधक बनाकर पीटा भी था। उन्होंने बताया कि दो वर्ष पूर्व सकीना को उसके पति ने सारा दिन धूप में बांधकर रखा, जिसकी सूचना मिलते ही मायके के सभी लोग पहुंचे और उसको छुड़वाया। इस घटना के बाद से सकीना मायके में रह रही थी। लेकिन बीच-बीच में उसका पति जबरन अपनी ससुराल वालों पर दबाव बनाकर कर सकीना को अपने घर ले जाता था। आखिरकार सकीना ने एक अगस्त को बेटी को जन्म दिया। इस बात की सूचना मिलते ही उसका पति घर पंहुचा और जबरन सात दिन की बच्ची को अपने साथ घर ले जाने लगा। लेकिन जब पत्नी ने इसका विरोध किया तो आरोपी पति ने पत्नी का सिर दिवार में टकरा दिया। उसकी हालात बिगड़ते ही परिजन एरा हॉस्पिटल ले गये। जहां इलाज के दौरान 10 अगस्त को उसकी मौत गयी। परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। लेकिन करीब डेढ़ माह बीतने के बाद भी पुलिस आरोपी को पकडऩे में असफल रही है। वहीं अपनी बहन के हत्यारों को सजा दिलाने के लिए भाई पुलिस विभाग के अधिकारियों के आफिस का चक्कर लगा रहा है। इस हादसे के बाद से सकीना की मां का भी बुरा हाल है। बेटी की मौत के गम में उनकी तबीयत भी बार-बार खराब होने लगी है। लेकिन इस मां को आलाधिकारी सिर्फ और सिर्फ आश्वासन दे रहे हैं। जबकि महिला की हत्या का आरोपी पति खुलेआम घूम रहा है।
इस संबंध में एसपी पश्चिमी सर्वेश मिश्रा ने बताया कि पुलिस आरोपी के खिलाफ पुख्ता सबूत तलाश रही है। सबूतों के मिलते ही पुलिस आरोपी को जल्दी ही गिरफ्तार करेगी। उन्होंने कहा कि इससे पहले भी पुलिस ने आरोपी के घर पर कई बार दबिश दी थी, लेकिन आरोपी फरार था। किसी के कहने या रसूखदार के साथ रहने से आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा। उसकी जल्द ही गिरफ्तारी कर जेल भेजा जायेगा। इस संबंध में मौलाना खालिद रशीद से फोन कर वार्ता करने का प्रयास किया गया लेकिन उनके बाहर होने के चलते संपर्क नहीं हो पाया।

आरोपी को बड़े मौलाना का मिला है संरक्षण

सकीना बेग की हत्या का आरोपी पति रमजान बेग बेखौफ घूम रहा है। सूत्रों के अनुसार आरोपी खुद को मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली का खास बता कर क्षेत्र में रौब ऐंठता रहता है। इसलिए पुलिस भी आरोपी पर हाथ डालने से कतरा रही है। यही नहीं, पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेकर आज तक कभी आरोपी को पकडऩे का प्रयास नहीं किया।

एसएसपी ने भी दिया मृतका की मां को आश्वासन

सकीना बेग की मां ने एसएसपी मंजिल सैनी से मिलकर बेटी के हत्या के आरोपियों को सजा दिलाने की मांग की है। एसएसपी ने पीडि़ता को जल्द इंसाफ दिलाने का आश्वासन दिया है। लेकिन एसएसपी के आश्वासन के सप्ताह भर बाद भी पाडि़ता को न्याय नहीं मिला। आरोपी खुलेआम घूम रहा है।

Pin It