योगी का सख्त फैसला अगर सांसदों और विधायकों की न सुनी तो अफसरों पर होगी कड़ी कार्रवाई

योगी का सख्त फैसला अगर सांसदों और विधायकों की न सुनी तो अफसरों पर होगी कड़ी कार्रवाई

सांसदों और विधायकों के फोन कॉल की उपेक्षा कतई न की जाए

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का सख्त फरमान आया है। इस फरमान के अनुसार अगर कोई अफसर व अधिकारी सांसद व विधायकों की बात नहीं सुनता है तो उस पर कड़ी कार्रवाई होगी। कानपुर मंडल की समीक्षा बैठक के दौरान सीएम योगी ने दो टूक कहा कि सांसद-विधायकों की उपेक्षा करने वाले अधिकारियों पर कार्रवाई तय है। मुख्यमंत्री ने अपने आवास से वीसी के माध्यम से कानपुर मंडल के कानपुर नगर, कानपुर देहात, फर्रुखाबाद, कन्नौज, इटावा और औरैया जिले के विकास कार्यों की समीक्षा की। कानपुर में गंगा किनारे खूबसूरत रिवर फ्रंट की कार्ययोजना के निर्देश देते हुए कहा कि अविरल और निर्मल गंगा के लिए कानपुर एक महत्वपूर्ण पड़ाव है।
इस मंडल के बड़े भूभाग से होकर गंगा गुजरती हैं। नमामि गंगे मिशन के तहत हुए कार्यों की उन्होंने सराहना की। जनप्रतिनिधियों से फीडबैक लेते वक्त बिठूर विधायक अभिजीत सांगा ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बताया कि मुख्य चिकित्सा अधिकारी विधायकों का ही फोन नहीं उठाते। एमएलसी डॉ.अरुण पाठक ने भी यही शिकायत दोहराई। इस योगी ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जनप्रतिनिधियों के सतत संपर्क में रहें। सांसदों और विधायकों के फोन कॉल की उपेक्षा कतई न की जाए। अगर किसी अफसर व अधिकारी के खिलाफ ऐसी शिकायत आती है तो उस पर कार्रवाई जरूर होगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सांसदों-विधायकों की उपेक्षा जनता की उपेक्षा है। इसे स्वीकार नहीं किया जा सकता।

कब्जेधारियों से सख्ती से निपटें

जमीन पर अवैध कब्जे की शिकायतों का संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अगर कहीं सरकारी भूमि पर किसी ने अवैध कब्जा किया है तो उससे सख्ती से निपटा जाए और जब से अवैध कब्जा हुआ है, तब से किराया भी वसूला जाए। कानपुर में मेट्रो रेल का काम प्राथमिकता से करने को कहा। मंडलायुक्त डॉ. राज शेखर ने बताया कि कानपुर में कृषि विश्वविद्यालय की 14 हेक्टेयर भूमि मेट्रो डिपो के ली जानी है। विश्वविद्यालय की अनुमति मिल गई है। इस पर मुख्यमंत्री ने जल्द कब्जा लेने की बात कही।

एमएसपी से कम पर धान की खरीद नहीं
इन दिनों किसानों का मुद्दा गरमाया हुआ है। इसे देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पहली अक्टूबर से धान क्रय केंद्र खुल रहे हैं। यह सुनिश्चित किया जाए कि किसी भी कीमत पर न्यूनतम समर्थन मूल्य से कम पर खरीद न हो।

इधर भाजपा विधायक ने अफसर पर कार्रवाई की मांग की
लखनऊ विकास प्राधिकरण के मुख्य अभियंता चक्रेश जैन पर भाजपा विधायक ने घूस मांगने का आरोप लगाया है। उन्होंने इसकी शिकायत सीएम योगी को की है। विधायक का आरोप है कि घूस न देने पर उसकी फर्म को ब्लैक लिस्ट करने की धमकी दी गई है। बाराबंकी के रामनगर से विधायक शरद अवस्थी के पत्र का सीएम योगी ने संज्ञान लिया है। इसी के तहत एलडीए उपाध्यक्ष शिवाकांत द्विवेदी ने आरोपों को लेकर चक्रेश जैन से मामले में जवाब मांगा है। चक्रेश के खिलाफ शासन स्तर पर जांच होगी। अगर दोषी पाए गए तो कड़ी कार्रवाई होगी।

यूपी में पंचायत चुनाव लड़ेगी आम आदमी पार्टी

ग्राम प्रधान पद पर उतारेगी अपना उम्मीदवार

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। आम आदमी पार्टी के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह और पार्टी के राष्टï्रीय प्रवक्ता दिलीप पांडेय ने यूपी पंचायत चुनाव में पूरी ताकत और मजबूती के साथ मैदान में उतरने की हुंकार भरी। उत्तर प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने बताया कि पार्टी पंचायत चुनाव में सभी जगह अपने उम्मीदवार उतारेगी।
लखनऊ में एक वार्ता में दोनों नेताओं ने कहा कि प्रदेश में जातिवाद का तिलिस्म रचने वाली राजनीतिक पार्टियों का भविष्य आगामी पंचायत चुनाव में तय हो जाएगा। पार्टी ने प्रदेश की 345 विधानसभाओं में 25-25 सदस्यों की विधानसभा कमेटी बना ली है, जो 58 विधानसभा कमेटियां अभी तक नहीं बनी हैं वो आने वाले दिन में बन जाएंगी। पार्टी नेताओं ने कहा कि पूरे प्रदेश में जन-जन ऑक्सीमीटर अभियान के तहत पार्टी कार्यकर्ता हर गांव में घर-घर जा रहे हैं और हर दिन 50 हजार लोगों से मिलकर उनका ऑक्सीजन लेवल चेक कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *