यूपी चुनाव की नैया पार लगाने भाजपा ने उतारे प्रोफेशनल्स

  • मोदी की हरी झंडी के बाद हुआ गठन
    कांग्रेस के रणनीतिकार पीके का करेंगे मुकाबला

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
captureलखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने रणनीति बनानी शुरू कर दी है। पार्टी ने 200 प्रोफेशनल्स की टीम गठित की है। यह टीम भाजपा की जीत के लिए योजना बनाएगी। दरअसल, भाजपा ने यह टीम कांग्रेस के रणनीतिकार प्रशांत किशोर का मुकाबला करने के लिए उतारी है। गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के बाद भाजपा पहली बार इतनी बड़ी प्रोफेशनल्स की टीम मैदान में उतार रही है। माना जा रहा है कि यदि यह रणनीति सफल रहती है तो भाजपा इसका इस्तेमाल आगे भी चुनावों के दौरान करेगी। इस टीम को एसोसिएशन ऑफ ब्रिलियंट माइंड्स (एबीएम) नाम दिया गया है।
टीम से जुड़े एक सदस्य के मुताबिक इसका प्रमुख किसी को नहीं बनाया गया है। सभी के पास अलग-अलग काम हैं। टीम प्रदेश के शहरी, युवा और मध्यम वर्ग के बीच जाकर उनकी प्राथमिकताओं को समझेगी और उसी के मुताबिक भाजपा को चुनावी रणनीति और घोषणापत्र तैयार करने में मदद करेगी। इस टीम में दो दर्जन से अधिक आईआईटी और आईआईएम हैं। यह टीम प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में काम कर रही है। सूत्रों के मुताबिक, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने की पिछले दिनों लखनऊ विजिट में इस टीम के साथ लंबी बातचीत भी की। बताया जा रहा है कि इस टीम के गठन की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंजूरी दी थी। दरअसल, गुजरात के कुछ प्रोफेसनल्स ने भाजपा से जुडऩे की इच्छा लेकर नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी। उन्होंने अपना प्रेजेंटेशन मोदी के सामने पेश किया था। उन्होंने टीम को बातचीत के लिए अमित शाह के पास भेजा। शाह ने टीम का इस्तेमाल यूपी में करने का फैसला किया। भाजपा के यूपी चीफ केशव प्रसाद मौर्या ने बताया कि कांग्रेस और पीके की टीम भाजपा से टक्कर नहीं ले सकती। हम प्रोफेशनल्स के साथ नहीं, बल्कि अपने जमीन से जुड़े कार्यकर्ताओं के साथ प्रोफेशनल तरीके से चुनावों की तैयारी कर रहे हैं। बताते चलें कि मोदी के 2014 के चुनावी कैम्पेन को प्रशांत किशोर की अगुआई वाली सिटिजन फॉर अकाउंटेबल गवर्नेंस (सीएजी) ने संभाला था।

Pin It