मोबाइल कंपनियों के खराब नेटवर्क पर डीएम की नाराजगी

बीएसएनएल, वोडाफोन और रिलायंस समेत आधा दर्ज कंपनियों को नोटिस
दो महीने में नेटवर्क नहीं सुधारने पर कड़ी कार्रवाई का अल्टीमेटम

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। जिलाधिकारी राजशेखर ने मोबाइल कंपनियों को नेटवर्क सुविधा में गड़बड़ी पर नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने सभी मोबाइल कंपनियों को नोटिस भेजकर दो महीने के अंदर खराब नेटवर्क सुधारने का अल्टीमेटम दिया है। यदि तय समय में मोबाइल कंपनियों का नेटवर्क नहीं सुधरा तो संबंधित कंपनी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी।
डीएम के मुताबिक मोबाइल फोन का इस्तेमाल करने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है। इसके बावजूद मोबाइल कंपनियों की सर्विस में कोई सुधार नहीं हो रहा है। मोबाइल उपभोक्ताओं को जरूरत से समय अक्सर नो नेटवर्क और काल ड्राप की समस्या को झेलना पड़ता है। इसके बाद भी लगातार मोबाइल कंपनियां अधिक से अधिक लोगों को कनेक्शन देने में मशगूल रहती हैं। खराब नेटवर्क की वजह से पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों को कानून एवं शांति व्यवस्था बनाए रखने में समस्या पेश आती है। इतना ही नहीं समय-समय पर होने वाली दुर्घटनाओं और अग्निकांड की सूचनाओं को खराब नेटवर्क की वजह से संबंधित विभाग तक पहुंचाना मुमकिन नहीं हो पाता। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दिनों से मोबाइल में वॉइस क्वालिटी, थ्री जी सर्विस, इंटरनेट और रिमोट प्लेस कनेक्टिविटी में लगातार गिरावट आ रही है। इससे राजधानी के लाखों मोबाइल उपभोक्ताओं को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में मोबाइल कंपनियों को अपने नेटवर्क में सुधार करने की जरूरत है। फिलहाल मोबाइल कंपनियों के नेटवर्क में सुधार के लिए शुक्रवार को बीएसएनएल, वोडाफोन, एअरटेल, टेलीनॉर, आइडिया, एयरसेलए और रिलायंस कंपनी को नोटिस जारी किया गया है। यदि दो महीने के अंदर समस्या दूर नहीं हुई, तो स्वतंत्र एजेंसी से जांच करवाई जायेगी। इसके बाद आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की विभिन्न धाराओं के तहत मोबाइल कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।

Pin It