मेदांता अस्पताल बदलेगा यूपी में चिकित्सा का हाल: अखिलेश यादव

मेदांता अवध हास्पिटल के निर्माण कार्य का शुभारम्भ

मेदांता हास्पिटल के निर्माण कार्य का सीएम अखिलेश व सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह ने किया शुभारंभ
शहीद पथ के पास अंसल सिटी में बन रहा है यह
अस्पताल, एम्स के बाद देश में आता है मेदांता का नाम
इस हास्पिटल के खुलने से लगभग 25 हजार लोगों को मिलेगा रोजगार

K14पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा, उत्तर प्रदेश तेजी से तरक्की कर रहा है। राजधानी में मेडिकल की बड़ी-बड़ी संस्थाएं हैं। पीजीआई, केजीएमयू अपनी बेहतर सेवाओं के लिए पूरे देश में प्रसिद्ध है। अब राजधानी को एक बड़ी सौगात मिलने जा रही है। एम्स के बाद अगर किसी अस्पताल का नाम आता है तो वह है मेंदाता। अब मेदांता अवध हास्पिटल लखनऊ में खुलने जा रहा है। इस हास्पिटल से यूपी के लोगों को तो लाभ मिलेगा ही, साथ ही दूसरे राज्यों के लोगों को भी फायदा होगा। आने वाले समय में लखनऊ मेडिकल की सबसे बड़ी
राजधानी होगी।
सीएम अखिलेश यादव आज शहीद पथ के पास स्थित अंसल सिटी में मेदांता अवध हास्पिटल के शुभारंभ के मौके पर लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यह अस्पताल एक साल के भीतर तैयार हो जाएगा। बहुत कम शहर है जहां इतने बड़े-बड़े संस्थान हैं। मेदांता से गरीबों को भी अच्छे इलाज का मौका मिलेगा। सीएम ने कहा कि राजधानी में बहुत बड़ी-बड़ी योजनाएं आने वाली हैं। बहुत सारी योजनाओं पर काम चल रहा है। प्रदेश की तरक्की का कार्य चरम पर है। चकगंजरिया में और भी कई बड़ी विकास की योजनाएं शुरू होने वाली हैं। हम यहां आईटी सिटी बनाने जा रहे हैं, इंटरनेशनल स्टेडियम का निर्माण कार्य जोरों पर चल रहा है। आने वाले दिनों में लखनऊ का ये इलाका सबसे विकसित इलाके के रूप में उभरेगा।
इस अवसर पर सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने कहा राजधानी में मेदांता अवध के खुलने से लोगों को बहुत लाभ मिलेगा। मेदांता प्रदेश के लिए बड़ी उपलब्धि है। डा. नरेश त्रेहन के कामकाज से सभी वाकिफ हैं। आप लोग देश की सेवा कर रहे हंै। सरकार ने बड़ा काम किया है और आगे भी करते रहेेंगे। सपा सुप्रीमो ने कहा कि प्रदेश सरकार स्वास्थ्य की दिशा में बेहतर काम कर रही है। गांव से लेकर शहर तक सभी को बेहतर चिकित्सा सुविधा मिल रही है। इस अवसर पर डॉ. त्रेहन ने प्रदेश सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि जितनी जल्दी हॉस्पिटल को लेकर सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं यह किसी दूसरे प्रदेश में संभव नहीं है।
इस अवसर पर अमर सिंह, स्वास्थ्य मंत्री अहमद हसन सहित अनेक मंत्री व आला अधिकारी उपस्थित रहे।

आज भी पार्टी में शामिल होने के लिए सीएम की खुशामद करते नजर आए अमर सिंह

अमर सिंह ने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि नेताजी उनका इतना बुरा हाल करेंगे। पिछले लंबे समय से अमर सिंह पार्टी में शामिल होने के लिए बेचैन हैं। वह नेता जी के यहां कई बार हाजिरी लगा चुके हैं। नाराज अखिलेश यादव को मनाने के लिए उनके घर भी कई बार चक्कर लगाए, मगर नेताजी बहुत सफाई के साथ अमर सिंह को टहला रहे हैं और यह एहसास दिला रहे हैं कि उन्होंने पार्टी से अलग होकर जो बड़बोलापन किया था उसका नुकसान उन्हें अभी और भुगतना होगा। सभी जानते हैं कि सपा में नेताजी का फैसला आखिरी होता है। नेताजी जब चाहें तब पार्टी में अमर सिंह को ले सकते हैं। कोई विरोध नहीं करेगा। मगर नेताजी भी जानते हैं कि उनके सीएम पुत्र अखिलेश यादव अमर सिंह को पसंद नहीं करते। लिहाजा सब कहते रहते हैं कि अमर सिंह से रिश्ते व्यक्तिगत हैं मगर उन्हें पार्टी में एंट्री देने से पहले उन्हें उनकी हैसियत बताई जा रही है। आज के कार्यक्रम में भी सार्वजनिक रूप से अमर सिंह अखिलेश यादव की चमचागिरी करते नजर आए, मगर सीएम ने उन्हें ज्यादा भाव नहीं दिया।

12 एकड़ में बनेगा यह अस्पताल

मेदांता अवध हॉस्पिटल मॉर्डन सुविधाओं से लैस मेडिकल इंस्टीट्यूट होगा। 12 एकड़ में यह अस्पताल बनेगा। इस हॉस्पिटल में 30 ऑपरेशन थिएटर, 1000 बेड, 300 क्रिटिकल केयर बेड और 20 से ज्यादा स्पेशल मरीजों के इलाज का इंतजाम होगा। इस हास्पिटल के खुलने से प्रदेश के लोगों के साथ-साथ सीमावर्ती अन्य प्रदेशों के लोगों को भी बेहतर इलाज की सुविधा मिलेगी। इस हॉस्पिटल से करीब 25 हजार लोगों को रोजगार मिलेगा। लखनऊवासी लंबे समय से इस अस्पताल के शुरू होने का इंतजार कर रहे हैं। आज जब इसका निर्माण कार्य शुरू हो गया तो लोगों में बेहद खुशी है।

Pin It