मीङ्क्षटग में सो रहे थे प्रमुख सचिव संजीव दुबे चीफ सेक्रेटरी ने कहा जाइये मुंह धोकर आइये

  • सिंघम स्टाइल’ के लिए मशहूर हो रहे हैं दीपक सिंघल
  • कल भरी मीटिंग में झपकी ले रहे संजीव दुबे को फटकारा और कहा, नींद आ रही हो तो घर जाइये

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
bbb1लखनऊ। मुख्य सचिव दीपक सिंघल अब नौकरशाहों के बीच ‘सिंघम’ के नाम से मशहूर होते जा रहे हैं। कल प्रदेश भर के अफसरों की बैठक में सीएम के आने से पहले जब चीफ सेक्रेटरी प्रदेश भर के अफसरों को ज्ञान दे रहे थे, तब प्रमुख सचिव होमगार्ड संजीव दुबे झपकी ले रहे थे। मंच पर बैठे दीपक सिंघल ने जब ये नजारा देखा, तो उनका पारा चढ़ गया। इसके बाद जो हुआ, उसकी किसी ने कल्पना भी नहीं की थी। दीपक सिंघल का गुस्सा देखकर हॉल में एक मिनट को सन्नाटा छा गया और उसके बाद जिन बड़े अफसरों को नींद आ भी रही थी, वे अपनी आंखें बड़ी-बड़ी करके मीटिंग में सीधे होकर बैठ गये।
दरअसल प्रदेश में कानून व्यवस्था सुधारने के लिए प्रदेश के सभी डीएम और एसएसपी को लखनऊ बुलाया गया था। पूरी बैठक का मुद्ïदा सिर्फ कानून व्यवस्था में सुधार का था। मुख्य सचिव कानून व्यवस्था सुधारने के लिए खुद तैयारी करके आये थे। वे अफसरों को कानून व्यवस्था सुधारने की बात बता रहे थे मगर इसी दौरान संजीव दुबे आराम से सो रहे थे। चीफ सेक्रेटरी ने यह देखते ही उनको फटकारते हुए कहा कि अगर ज्यादा नींद आ रही हो तो घर पर जाकर सोइये। चीफ के ये तेवर देखकर हॉल में सन्नाटा छा गया। हड़बड़ाए संजीव दुबे वॉशरूम गए और बाद में झेपते हुए अपनी कुर्सी पर आकर बैठ गए। मगर इसके बाद बाकी सब अफसरों की हवाईयां उड़ गयीं।
चीफ सेक्रेटरी पहले भी अपनी इसी शैली का परिचय दे चुके हैं। वीडियो कांफ्रेंसिंग में उन्होंने कहा था कि जो अफसर काम नहीं करेगा मैं उसको जेल भेज दूंगा। अब अफसर इस बात की खैर मना रहे हैं कि दीपक सिंघल जिलों के दौरे पर न निकलें, क्योंकि कहीं वे अपनी कही हुई बात को सच न कर बैठें।

कैबिनेट का फैसला- मिलेगा स्मार्ट फोन और गोमतीनगर में बनेगा हॉकी का मैदान

  • केजीएमयू में ट्रामा सेंटर के ऊपर बनेगा दो तल का भवन
  • प्रदेश सरकार जिला पंचायत सदस्यों को देगी कार
  • बस्ती में विकास प्राधिकरण के गठन संबंधी प्रस्ताव को मिली मंजूरी

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में युवाओं को स्मार्ट फोन देने, केजीएमयू के ट्रॉमा सेंटर के ऊपर दो तल का निर्माण, बब्बर शेर प्रजनन केन्द्र, लायन सफारी पार्क इटावा में विजिटर फैसिलिटेशन सेन्टर बनाने और बस्ती में बस्ती विकास प्राधिकरण के गठन समेत दर्जन भर प्रस्तावों को मंजूरी दी गई।
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कैबिनेट की बैठक के बाद कहा कि हमारी सरकार विकास की दिशा में बेहतर काम कर रही है। सरकार का काम चारों तरफ दिखाई दे रहा है। प्रदेश में हाईवे बनाने, मेट्रो चलाने और प्रदेश के विभागों को हाईटेक बनाने व जनता को डिजिटल तकनीक से लैस करने का काम प्रमुखता से किया जा रहा है। प्रदेश सरकार ने युवाओं को लैपटाप बांटकर कम्प्यूटर से जुडऩे और उससे बेहतर जानकारी हासिल कर अपनी गुणवत्ता का व्यापक स्तर पर प्रदर्शन करने का मौका दिया। आज गांवों में रहने वाला युवा भी आईटी सेक्टर में जाने और शहरों में रहने वाले प्रोफेशनल्स को टक्कर दे रहा है। इसी कड़ी में युवाओं को स्मार्ट फोन देने का निर्णय लिया गया है। मोबाइल रजिस्ट्रेशन के लिए कैबिनेट की मंजूरी दी गई है। अब स्मार्ट फोन बांटकर लोगों को इंटरनेट की दुनिया से जुडऩे और इंटरनेट पर मौजूद ज्ञान और अन्य सुविधाओं का लाभ लेने का अवसर मिलेगा। इसके अलावा कैबिनेट की बैठक में जिला पंचायत सदस्यों को कार देने, अंशकालिक शिक्षकों के मानदेय के लिए 200 करोड़ की मंजूरी, युवक मंगल दलों को मानदेय, जौनपुर में नया ऑडिटोरियम बनाने, यशवंत नगर भरथना पालिका का सीमा विस्तार, बाराबंकी की बेलहरा मऊ की मधुबन में नई नगर पंचायत बनाने का फैसला लिया गया। इसके अलावा भूतपूर्व सैनिकों/शहीद सैनिकों एवं अर्ध सैनिक बलों तथा केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल के शहीदों के आश्रितों को आवासीय सम्पत्तियों पर स्टाम्प शुल्क में छूट देने का फैसला लिया गया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि गोमतीनगर के विजयन्तखण्ड में एस्ट्रोटर्फ हॉकी मैदान का निर्माण, सीतापुर में आचार्य नरेन्द्र देव स्मृति पार्क का निर्माण कराया जायेगा। इसके अलावा शासकीय भवनों पर रूफटॉप रेनवाटर हार्वेस्टिंग, रिचार्ज प्रणाली के लिए तैयार मसौदे पर भी मुहर लगाई गई है।

बीजेपी नेता की कार से तीन करोड़ रुपये बरामद

  • दिल्ली से लखनऊ स्थित बीजेपी मुख्यालय में फंड जमा करने के लिए लाया जा रहा था पैसा

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। इनकम टैक्स की टीम ने बीजेपी नेता अनूप अग्रवाल की कार से तीन करोड़ रुपये बरामद किए हैं। अधिकारियों की पूछताछ में मालूम हुआ है कि बीजेपी नेता की तरफ से पार्टी फंड में जमा करने के लिए इतनी बड़ी रकम लखनऊ लाई जा रही थी, जिसे रास्ते में ही टीम ने कब्जे में ले लिया।
गाजियाबाद में भाजपा नेता की सफेद रंग की स्विफ्ट डिजायर कार को इंदिरापुरम में चेकिंग के दौरान पकड़ा गया। इस कार में चार संदिग्ध बैग मिले। इनकम टैक्स की टीम ने उन बैगों की तलाशी ली तो वह बैग रुपयों से भरा पड़ा मिला। जब बैग में पड़े रुपये की गिनती की गई तो उसमें कुल 3 करोड़ रुपये मिले। जब रुपयों के बारे में पूछताछ की गई, तो मालूम हुआ कि रुपयों से भरा बैग भाजपा पार्टी फंड में जमा करने के लिए दिल्ली से लखनऊ लाया जा रहा था।

Pin It