मां और बेटे पर धारदार हथियार से हमला

मां और बेटे पर धारदार हथियार से हमला

  • हालत नाजुक, हमलावर फरार, पुलिस कर रही जांच

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
मेरठ। मोदीपुरम में कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र के लखवाया गांव में एक युवक ने पड़ोस में रहने वाले अपने दोस्त के घर में घुसकर मां और बेटे पर धारदार हथियार और पत्थर से ताबड़तोड़ वार कर जानलेवा हमले को अंजाम दिया। वारदात आज तडक़े करीब तीन बजे की बताई जा रही है। आरोपित को घर से जाते हुए पड़ोसियों ने देखा, जिसके बाद ग्रामीण जमा हो गए। पुलिस मौके पर पहुंची व घायलों को हॉस्पिटल में भर्ती कराया। रोहटा रोड स्थित दर्शन नर्सिंग होम में घायल मां बेटे का उपचार कर रहे डॉक्टर राहुल ने बताया कि परविंदर के सिर, गला और सीने पर धारदार हथियार से चार, पांच वार है जबकि उसकी मां तारावती के सिर, पेट और गले पर गहरे घाव हैं। दोनों वेंटिलेटर पर हैं।
रोहटा रोड स्थित लखवाया गांव में 60 वर्षीय तारावती पत्नी रमेश चंद अपने 24 वर्षीय बेटे परविंदर के साथ रहती है। तारावती का पति रमेश चंद कई वर्षों से लापता है। तारावती के दो अन्य बेटे अरविंद और तरुण गांव में ही अपने अलग-अलग मकानों में रहते हैं। परविंदर नगर निगम से वर्कशॉप में स्थाई मिस्त्री है। वहीं रोहटा क्षेत्र में स्थित गांव डूंगर निवासी सुरजीत पुत्र इंद्रजीत कई सालों से अपने परिवार के साथ लखवाया गांव के बाहरी हिस्से में रहता है। सुरजीत बाइक मिस्त्री है। ग्रामीणों के मुताबिक सुरजीत का कई दिनों से परविंदर के घर आ आना जाना लगा हुआ था। आज तडक़े करीब तीन बजे परविंदर के पड़ोस में रहने वाला एक व्यक्ति शोर होने पर नींद से जागा और अपने दरवाजे पर पहुंचा। जहां उसने परविंदर के घर से जाते हुए सुरजीत को देखा। पड़ोसी ने अन्य आस पड़ोस वालों को फोन कर सुरजीत के बारे में बताया। ग्रामीण जमा हुए और परविंदर के घर पहुंचे तो वहां मां बेटे लहूलुहान हालत में अधमरे पड़े थे। पुलिस ने सुरजीत के घर दबिश दी मगर वह घर से भाग चुका था। पुलिस ने आरोपित सुरजीत के दो भाइयों को हिरासत में थाने ले जाकर पूछताछ कर रही है।

आईएसआई एजेंट राशिद के घर पर छापेमारी

  • आर्मी मूवमेंट व अन्य अहम जानकारियां भेजी थी पाकिस्तान

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
वाराणसी। आईएसआई एजेंट राशिद के खिलाफ दर्ज मामले की जांच की जिम्मेदारी एनआईए को सौंप दी गई है। इसके बाद नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी की टीम ने रविवार को आईएसआई एजेंट राशिद को लेकर उसके मूल निवास चंदौली के चौरहट गांव पहुंची थी, जहां पर राशिद अपनी तलाकशुदा मां के साथ रहता था। एनआईए की टीम ने राशिद की मां से सघन पूछताछ की जिसके बाद एक मोबाइल फोन और कुछ कागजात बरामद हुए हैं।
एटीएस जांच में खुलासा हो चुका है कि राशिद अपने रिश्तेदारों के पास दो बार पाकिस्तान जा चुका है। राशिद का पाकिस्तान की एक युवती से निकाह की बात भी चल रही थी। इस दौरान आईएसआई के लोगों की नजर उस पर पड़ी और उन्होंने राशिद को अपना एजेंट बना लिया। राशिद को एटीएस ने गिरफ्तार किया था, तब खुलासा हुआ था कि उसने व्हाट्सएप के जरिए कई महत्वपूर्ण ठिकानों की फोटो, वीडियो और आर्मी के मूवमेंट की जानकारी आईएसआई को भेजी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *