महंगाई का तडक़ा लगा गए जेटली

  • रक्षा बजट पर नहीं हुआ कोई जिक्र, गरीब महिलाओं के लिए गैस कनेक्शन दिए जाएंगे 
  • मई 2018 तक देश के सभी गांवों में बिजली, सस्ती दवाओं के लिए तीस हजार स्टोर खुलेंगे

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
P1नई दिल्ली। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने लोकसभा में देश का आम बजट 2016-17 पेश किया। बजट में गरीबों और किसानों से जुड़े कई बड़े ऐलान किए गए। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आज संसद में बजट पेश करते हुए कहा कि ऐसे समय जब वैश्विक अर्थव्यवस्था गंभीर अवस्था से गुजर रही है, भारतीय अर्थव्यवस्था की स्थिति स्थिर बनी हुई है। वित्त मंत्री ने कहा कि आसमानी और सुल्तानी दोनों बलों ने हमें परेशान किया है। विरासत में हमें खराब अर्थव्यवस्था मिली थी लेकिन अब हालात बेहतर हैं। वित्त मंत्री जेटली ने कहा कि अगले पांच साल में किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि हमारा खास जोर पीएम ग्राम सडक़ योजना पर है। मनरेगा योजना के लिए 38 हजार 500 करोड़ रुपए आवंटित किए हैं।
ग्रामीण क्षेत्र को खास अहमियत बजट में दी गई है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने 87,761 करोड़ रुपये का बजट रूरल सेक्टर के लिए आवंटित किया है। ग्राम पंचायतों को अब 80 लाख रुपए ज्यादा मिलेंगे। इसी क्रम में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए 5500 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया गया है। इसी तरह 87,761 करोड़ रुपये का बजट रूरल सेक्टर के लिए आवंटित किया गया है।
वित्त मंत्री ने कहा कि हमारी प्राथमिकता कमजोर वर्गों पर है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण इंफ्रास्ट्रक्चर पर ज्यादा खर्च होगा। कृषि व किसान कल्याण के तहत हम किसानों को इनकम सिक्योरिटी देना चाहते हैं। इसके लिए 35,984 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया गया है। जेटली ने कहा कि मेरा बजट 9 स्तंभों पर आधारित है। सरकार ने परंपरागत कृषि विकास योजना, ऑर्गेनिक चेन फार्मिंग जैसी योजनाओं के तहत करीब 400 करोड़ रुपये का बजट दिया गया है। नाबार्ड को 20 हजार करोड़ रुपये का बजट दिया जा रहा है, ताकि वह कृषि व किसानों के लिए योजनाओं को लागू कर सके। बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर की जयंती पर एक केंद्रीय कृषि बाजार का ई-प्लेटफॉर्म देश को समर्पित किया जाएगा।

महंगे हुए उत्पाद

सोना महंगा
बीड़ी छोड़ तम्बाकू उत्पाद महंगे
ब्यूटी पार्लर जाना पड़ेगा महंगा
होटल में खाना महंगा
10 लाख से महंगी कारों पर एक फीसदी अतिरिक्त कर
डीजल से चलने वाली सभी कारें महंगी होंगी
ब्रांडेड कपड़े महंगे
कोयला महंगा

किसानों को सौगात

किसानों के विकास के लिये 35,984 करोड़ रुपये
कृषि ऋण के लिये इस साल 9.5 लाख करोड़ रुपये
किसानों की आय 5 साल में दोगुनी करने का लक्ष्य
पांच लाख एकड़ जमीन में जैविक खेती होगी
फसल बीमा के लिये 5,500 करोड़ रुपये
सिंचाई योजना के लिये 17000 करोड़ रुपये
एकीकृत खेती बाजार योजना की घोषणा

महत्वपूर्ण घोषणाएं

बीपीएल परिवारों को रसोई गैस देने के लिये नई योजना
सस्ती दवा के लिये 30,000 स्टोर खुलेंगे
आधार को कानूनी दर्जा देने का इरादा जताया
मनरेगा के तहत पांच लाख कुएं तालाब बनाए जाएंगे
मनरेगा के लिये 38,500 करोड़ रुपये
स्वच्छ भारत के तहत कचरे से खाद बनेगी
दलित-आदिवासी उद्यमियों के लिये अलग केन्द्र
पांच लाख से कम आय वालों को 3,000 रुपये की कर राहत
ईपीएफ और पेंशन योजना में सर्विस टैक्स से छूट
पोस्ट ऑफिस में एटीएम सेवा शुरू होगी
इस साल 10,000 किलोमीटर सडक़ें बनेंगी

स्वास्थ्य और शिक्षा

नेशनल डायलिसिस सर्विस प्रोग्राम का ऐलान, इसकी सुविधा जिला अस्पतालों में मिलेगी
स्वच्छ भारत मिशन के लिये 9 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान
नई बीमा योजना का ऐलान, बुजुर्गों को मिलगी खास रियायत
क्वालिटी एजुकेशन के लिये 62 और नवोदय विद्यालय खोले जाएंगे
उच्च शिक्षा के लिये 1000 करोड़ रुपये
15000 स्किल डेवलपमेंट सेंटर खुलेंगे

Pin It