मदद के बजाय कैटर्स को थाने में गुजारनी पड़ी रात

मुंडन में खाना कम पडऩे पर नशेडिय़ों ने कैटर्स को पीटा, की तोड़-फोड़
एसओ आरोप, छोडऩे के लिए मांगे 5० हजार रुपये

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। पुलिस अधिकारियों के लाख निर्देशों के बाद उनके मातहत सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं। पुलिस की मदद के लिए कंट्रोल रूम पर जानकारी दी लेकिन मदद के बजाय पीडि़त को पूरी रात थाने पर गुजारनी पड़ी। परिजनों का आरोप है कि पीडि़त को छोडऩे के लिए पुलिस ने मोटी रकम की डिमांड भी रख दी। फिलहाल खबर लिखे जाने तक पीडि़त थाना पर था।
सहारा स्टेट में रहने वाले अभय सिंह का कैटरिंग का काम है। उनके भाई सुनील के मुताबिक चांदगंज स्थित साईं मंदिर के गेस्ट हाउस श्री गार्डेन हाल में मुंडन था। अभय ने खाने का ठेका लिया था। बताया जा रहा है कि रात में कुछ सब्जी कम पड़ गई। इस बात को लेकर मेहमानों ने उनके साथ अभद्रता कर दी। अभय ने कुछ देर की मोहलत मांगी लेकिन नशे में धुत्त करीब एक दर्जन युवकों ने सामान को फेंकना शुरू कर दिया। अभय ने इस पर आपत्ति जताई तो वह मारपीट पर अमादा हो गए। अभय वहां से भाग निकला। उन्होंने पुलिस कंट्रोल रूम पर सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची और फिर उनके साथ घटनास्थल पर पहुंची। नशेड़ी युवक पुलिस के सामने भी गाली-गलौच करते रहे। पुलिस अभय को लेकर थाने ले आर्ई। परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने उन्हें छोडऩे के एवज में 5० हजार रुपये की मांग की है। इस बाबत एसओ अलीगंज केपी यादव का कहना है कि अभय को पार्टी में खाना बनाने का ठेका दिया गया था। लेकिन वह खाने की पूर्ति नहीं कर सका। खाने के बारे में पूछा गया तो वह मोबाइल ऑफ करके फरार हो गया। मामले की जांच की जा रही है।

Pin It