भ्रष्टाचारियों के शिकंजे से मुक्त हो लोक सेवा आयोग: वैभव

Capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता वैभव महेश्वरी ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने अनिल यादव को सभी नियमों को ताख पर रखकर लोक सेवा आयोग का चेयरमैन बनाया था । अनिल यादव पर पीसीएस एवम् पीसीएस जे की परीक्षाओं में लगातार धांधली के आरोप है । पीसीएस लेवल के एग्जाम में अनिल ने कई नियमों की अनदेखी कर छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया है। छात्रों द्वारा कई बार प्रदर्शन किया गया लेकिन सपा सरकार ने चेयरमैन के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया । अंत में हाई कोर्ट के आदेश के बाद सरकार को एक बार फिर मुँह की खानी पड़ी।
यह बातें प्रदेश प्रवक्ता वैभव महेश्वरी ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से कहा। श्री महेश्वरी ने कहा हाईकोर्ट न्यायालय के द्वारा अवैध नियुक्ति घोषित की जाने के बाबजूद अनिल यादव को सपा सरकार बचाने में लगी है । लोक सेवा आयोग चेयरमैन और सेक्रेटरी के अभाव राम भरोसे चल रहा है। पीसीएस जे मुख्य परीक्षा का एग्जाम 26 अक्टूबर से होना है। छात्र इस एग्जाम को लेकर परेशान है कि एग्जाम होगा कि नहीं । उन्होंने कहा कि सपा सरकार ने इस आयोग की तरह उच्चतर शिक्षा आयोग, माध्यमिक चयन सेवा बोर्ड और अधीनस्त चयन सेवा बोर्ड के आयोग के चेयरमैन की नियुक्ति नियमों की पूरी तरह से अनदेखी करते हुए की है। साथ ही साथ माध्यमिक चयन सेवा बोर्ड में तो सदस्यों की भी नियुक्ति अवैध रूप से की है।

Pin It