भूकंप के झटके से दहला उत्तर भारत, 6 की मौत, सैकड़ों घायल

भूकंप की तीव्रता 6.7 आंकी गई
4.30 बजे कांपी जमीन और शुरू हो गई तबाही

GF14पीएम न्यूज़ नेटवर्क
दिल्ली। आज सुबह तडक़े भारत के 11 राज्यों में भूकंप के झटके महसूस किए गए। सबसे ज्यादा भूकंप की तबाही मणिपुर में देखने को मिली है। अब तक वहां 6 लोगों की मौत हो चुकी है और 100 से अधिक लोगों के घायल होने की सूचना है। उत्तर-पूर्वी भारत के मणिपुर में भारत-म्यांमार सीमा पर सोमवार तडक़े करीब 4.37 बजे भूकंप का काफी तेज झटका महसूस किया गया। भूकंप की तीव्रता 6.7 बताई जा रही है। भूकंप जमीन से सिर्फ 55 किमी. की गहराई में आया, जिसके कारण इसके काफी खतरनाक होने की आशंका है। भूकंप का केंद्र मणिपुर के तामेंगलॉन्ग जिले में था।
नॉर्थ-ईस्ट में भूकंप का पहला झटका सोमवार तडक़े 4 बजकर, 37 मिनट पर लगा, जिसकी रिक्टर स्केल पर इंटेन्सिटी 6.7 थी। दूसरा झटका 9.27 बजे के करीब आया। मणिपुर में भूकंप से भारी तबाही मची। सैकड़ों लोग जख्मी हो गए है। एनडीआरएफ की टीमें घटना स्थल पर पहुंच गई हैं। रिमोट एरिया में रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जाएगा।
भूकंप के झटके 11 राज्यों में महसूस किए गए, जिसमें असम, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, नगालैंड, मिजोरम, त्रिपुरा, वेस्ट बंगाल, झारखंड, बिहार और सिक्किम शामिल है। भूकंप का सेंटर म्यांमार-इंडिया बॉर्डर बताया जा रहा है। सेंटर इम्फाल से 33 किमी दूर टेमलॉन्ग में जमीन से 17 किमी की गहराई में था। अमेरिकी भूगर्भ सर्वेक्षण के अनुसार भूकंप की तीव्रता 6.7 मापी गई है।
पुलिस और आपदा प्रबंधन की टीमों के मुताबिक, कुछ इमारतों की सीढिय़ां, दीवारें और छतें ढह गई हैं। पुलिस ने बताया कि हॉस्पिटल
समेत कई बिल्डिंग्स को नुकसान पहुंचा है। भूकंप के झटके पड़ोसी देश बांग्लादेश, म्यांमार और भूटान में भी महसूस किए गए। भूकंप से बांग्लादेश में भारी नुकसान की खबर है। वहां भूकंप से जान-माल के काफी नुकसान होने की खबरे हैं।

पीएम ने गृह मंत्री से की बात
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी भूकंप के बाद ट्वीट करके बताया कि उन्होंने गृह मंत्री राजनाथ सिंह से बात की है। राजनाथ सिंह इस समय असम में हैं। इसके बाद किए गए ट्वीट में उन्होंने बताया कि एनडीआरएफ की टीमें मौके पर रवाना कर दी गई हैं। पीएम मोदी ने एक अन्य ट्वीट में बताया कि उन्होंने असम के मुख्यमंत्री तरुण गोगोई से भी भूकंप के बाद बात की।

लोकायुक्त मामला: अगली सुनवाई  19 जनवरी को

दिल्ली। यूपी में लोकायुक्त की नियुक्ति का मामला अभी सुलझने का नाम नहीं ले रहा। सुप्रीम कोर्ट में आज सुनवाई के दौरान सीजेआई टीएस ठाकुर की बेंच ने मामले को मुख्य बेंच भेज दिया है, जहां 19 जनवरी को जस्टिस रंजन गोगई की बेंच लोकायुक्त मामले की सुनवाई करेंगे। गौरतलब है कि बीते दिनों सुप्रीम कोर्ट ने अपने विशेषाधिकार का प्रयोग करते हुये हाईकोर्ट के पूर्व जस्टिस वीरेंद्र सिंह को यूपी का लोकायुक्त नियुक्त किया था। तब से अब तक यह मामला कोर्ट की सुनवाई में फंसा हुआ है। अब देखना यह है कि 19 जनवरी को होने वाली सुनवाई में क्या फैसला आता है।

जन्मदिन को लेकर माया मैडम ने ली आज क्लास

आज महत्वपूर्ण पदाधिकारियों को बुलाया बसपा सुप्रीमो मायावती ने
15 जनवरी को बसपा सुप्रीमो का जन्मदिन जन कल्याणकारी दिवस के रूप में मनायेंगे कार्यकर्ता

लखनऊ। बसपा पार्टी कार्यालय पर बसपा सुप्रीमो मायावती की अध्यक्षता में मासिक बैठक हुई। बैठक में मिशन 2017 की तैयारियों को लेकर रणनीति बनी तो वहीं 15 जनवरी को मायावती का जन्मदिन जनकल्याणकारी दिवस के रूप में मनाए जाने का फैसला लिया गया।
बसपा पार्टी कार्यालय पर आज सुबह से ही राज्यसभा सांसद, विधायक और पदाधिकारियों का तांता लगा हुआ था। इस बैठक में सभी जोन के पदाधिकारी व कॉर्डीनेटर आए थे। इस अवसर पर बहुजन समाजवादी पार्टी की राष्टï्रीय अध्यक्ष मायावती ने पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को 2017 में प्रदेश में होने वाले चुनाव की तैयारी में जुटने का निर्देश दिया साथ ही संगठन को मजबूत करने का भी निर्देश दिया। इसके अलावा बैठक में 15 जनवरी को बसपा सुप्रीमो मायावती के जन्मदिन को लेकर भी कार्यक्रम तय किए गए। इस बार जन्मदिन जन कल्याणकारी दिवस के रूप में पूरे प्रदेश में धूूमधाम से मनाया जाएगा।

Pin It