भाजपा ने मनाया काला दिवस

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
Captureआगरा। भारतीय जनता पार्टी ने आपात काल की चालीसवीं वर्षगांठ पर काला दिवस मनाया। शंकरगढ पुलिया पर एकत्रित होकर सेकडों भाजपाईयों ने सिर पर काली पट्टी बांध केदार नगर तिराहें तक पैदल मार्च किया। भाजपाई आपात काल के विरोध में नारे लगा रहे थे और आपात काल लगाने की दोषी कॉग्रेंस पार्टी को कोस रहे थे। नारे लगा रहें थे लोकतंत्र की हत्यारी कांग्रेस मुर्दाबाद- मुर्दाबाद, आपात काल मुर्दाबाद।
वरिष्ठ भाजपा नेता अरूण पाराशर ने कहा 1975 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का हाई कोर्ट ने चुनाव रद्द कर दिया और 6 वर्ष तक चुनाव लडने पर रोक लगा दी जिससे घबराई कॉग्रेस ने आज ही के दिन 25 जून को देश में आपात काल लागू कर लोकतंत्र की हत्या कर दी। भाजपा नेता के.के. भारद्वाज एवं भाजपा युवा मोर्चा जिला मंत्री राहुल चौधरी ने कहा 25 जून 1975 को लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ समाचार पत्र एवं चैनलो पर सेंसर लगा कर, समाचार पत्रों के दफ्तरों की बिजली काट कर कॉग्रेस ने पत्रकारों सहित जनता को यातनायें दी। विपक्षी नेताओं को आपात काल के नाम पर जेलों में डाल दिया उनके नाखून खिंचे और दबाब बनाया जिससे पूरे देश में हाहाकार मच गया था। 19 महीने तक लोकतंत्र की हत्या की गई। उसके विरोध में आज काला दिवस मनाया गया हैं। जयप्रकाश नारायण के नेत्रत्व में देश में कॉग्रेस के खिलाफ आंधी आयी और 1977 के चुनाव में कॉग्रेस का सफाया होगया था। काला दिवस के प्रदर्शन में रूपेंद्र सोलंकी, सोनू नोहवार, देवेंद्र तिवारी, आशीष जैन, कान्हा कुमार, सुमित गोयल, अंकित बंसल, विनोद कुमार, बेटी शुक्ला, ब्रिजेश पाराशर, सचिन सिंह, अमित मिक्षा, मोहित कुमार, सुनील चौधरी, अपिल चौधरी, रवींद्र सिंह चौहान, पूजा शर्मा, आकाश गुप्ता, सुभाष यादव, हिमांशु यादव, शुभम तौमर, प्रवेश पचौरी, कमल दीक्षित, अनमोल, विनय प्रताप सिंह, मोहित पंडित, सत्रुधन सिंह, सोरल सिंह, रजत, सारास्वत, दौलत राम धाकड, ईश्वरी प्रसाद, दीपक भदौरिया, सुधीर सिकरवार, भोला कुमार, आकाश सिंह, रामू सिंह, निक्की पंडित, निर्देश चौधरी, तपन सारास्वत, अपिल चौधरी, सिसुपाल चौधरी, अमन कुमार, कन्हैया लाल, पप्पू खांन, रसीद खान, सलीम खान, ताज मोहम्मद, रीनू खान, ललित पचौरी, सोनू शुक्ला, आदि प्रमुख सहित सेंकड़ों की संख्या में मौजूद रहे।

Pin It