भगवान राम के जीवन से त्याग और सेवा की मिलती है प्रेरणा: सुरभि रंजन

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। आकांक्षा समिति की प्रदेश अध्यक्षा एवं समाज सेविका सुरभि रंजन ने कहा कि श्री रामचरित मानस को Captureसुनना बड़ी बात नहीं बल्कि उनकी कथा के आदर्शो को जीवन में उतार कर समाजसेवा कर प्रत्येक मनुष्य को अपनी भागीदारी सुनिश्चित करनी चाहिए। जिसने कथा के आदर्शो को अपने जीवन में उतार लिया, उसने अपना जीवन सफल बना लिया।
श्री रामचरित मानस मात्र एक धर्म ग्रन्थ नही है अपितु जीवन को बेहतर जीने का मार्गदर्शन करता हैं। उन्होंने कहा कि भगवान राम का जीवन त्याग और सेवा की प्रेरणा देता है। सुरभि रंजन श्री बालकेश्वर मंदिर निराला नगर लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम में लोगों को संबोधित कर रही थी। उन्होंने कहा कि प्रभु कर्म की प्रधानता रखने वालों की सदैव रक्षा करते हैं। उन्होंने कहा कि कथा एवं धार्मिक आयोजनों से जुडऩे के बाद व्यक्ति के आचरण एवं जीवन में परिवर्तन आता है और इन शान्तिपूर्ण परिर्वतनों से समाज में समरसता का भाव पैदा होता है। कथा आयोजकों द्वारा सुरभि रंजन को अंग वस्त्र तथा श्री यंत्रों द्वारा भेंट किया गया। कथा का आयोजन प्रभु सेवा समिति पूज्यपाद श्री श्री 108 बाबा शिवशरण दास जी ‘‘कैलासी’’ के निर्वाण दिवस के अवसर पर किया गया था। आचार्य श्री संजीव कुमार ने मंदिर में उपस्थित भक्तों के समक्ष संगीतमय रामकथा के साथ-साथ भजनों का भावपूर्ण सरिता बहायी। इस अवसर पर भारी संख्या में भक्तगण उपस्थित रहे।

Pin It