ब्लाक मुख्यालयों में खुले सुविधा केन्द्र

  • ग्रामीणों को बिजली की शिकायत के लिए उपकेन्द्रों के चक्कर लगाने से मिली राहत

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। ग्रामीण उपभोक्ताओं को ट्रांसफॉर्मर खराब होने, सप्लाई प्रभावित होने, तार टूटने जैसी शिकायतों के लिए उपकेंद्रों के चक्कर लगाने से मुक्ति मिलने वाली है। पावर कॉरपोरेशन ने शुक्रवार को ग्रामीण क्षेत्रों में ब्लॉक स्तर पर विद्युत सुविधा केंद्रों की शुरुआत कर दी। ये सुविधा केंद्र ब्लॉक मुख्यालय पर स्थित 33 केवी उपकेंद्रों पर होंगे। इन केंद्रों पर सप्लाई में आई समस्याओं को दूर करने के लिए उपकरण, गैंग और जरूरी संसाधन की व्यवस्था होगी। इन केंद्रों पर शिकायतों का निस्तारण तुरंत हो, इसके लिए पावर कॉरपोरेशन चेयरमैन संजय अग्रवाल ने सभी बिजली कंपनियों के एमडी को मॉनिटरिंग के निर्देश दिए हैं।
इन सुविधा केंद्रों पर उपभोक्ता खुद आकर या फिर कॉल करके शिकायत दर्ज करवा सकते हैं। शिकायत के बाद उपभोक्ता को टोकन नंबर मिल जाएगा। इस टोकन की ट्रेकिंग सुविधा केंद्र से लेकर कॉरपोरेशन स्तर तक की जा सकती है। उधर, प्रदेश के जिन इलाकों में 72 घंटे के भीतर ट्रांसफॉर्मर नहीं बदले जा रहे हैं, वहां के इंजीनियरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। पावर कॉरपोरेशन के एमडी एपी मिश्र ने कहा कि कई जिलों से ऐसी शिकायतें मिल रही हैं। इसलिए ग्रामीण इलाकों में सुविधा केंद्रों की स्थापना की गई है। यहां आई शिकायत की मॉनिटरिंग आला अधिकारी करेंगे।

Pin It