ब्रांड के रूप में स्थापित होगा यूपी पर्यटन से बदलेगी तस्वीर: सहगल

पर्यटकों की सुरक्षा एवं शोषण से रक्षा के लिए बनेगा विशेष एक्ट

Capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। पर्यटन से उत्तर प्रदेश की तस्वीर बदल सकती है। यूपी सरकार यहां की असीमित संभावनाओं को देखते हुए इसे पर्यटन राज्य के रूप में स्थापित करने के लिए नई पर्यटन नीति-2016 बनाई है। इस नीति के तहत पर्यटन स्थलों पर हर सुविधा और सुरक्षा का इंतजाम किया जाएगा। यही नहीं, इन पर्यटक स्थलों की प्रभावी मार्केटिंग करके उत्तर प्रदेश को एक ब्रांड के रूप में स्थापित करना होगा।
पर्यटन के प्रमुख सचिव नवनीत सहगल ने यह जानकारी देते हुए बताया कि उत्तराखंड बनने के बाद उत्तर प्रदेश के पर्यटन उद्योग को बढ़ावा देना जरूरी हो गया है। आधुनिक जीवन शैली तथा बढ़ती हुई आमदनी के कारण लोग पर्यटन की ओर रुख कर रहे हैं। आज का पर्यटक रोज नए स्थलों तथा नए रोमांच की खोज में है। इसे देखते हुए राज्य सरकार ने एक सुव्यवस्थित नई पर्यटन नीति बनाई है।
पर्यटन नीति के प्रमुख बिन्दुओं को लेकर सहगल ने कहा कि वर्तमान दौर में उत्तर प्रदेश देश के राज्यों में सबसे अधिक पर्यटन आगमन प्राप्त करने वाला राज्य बन गया है। वर्ष 1998 में प्रदेश में आने वाले 7.27 लाख विदेशी पर्यटकों की संख्या वर्ष 2014 तक बढक़र लगभग 29.09 लाख हो गई है। विगत वर्षों से इंटरनेट तथा डिजिटल मीडिया में नए प्रयोग के कारण भी पर्यटन जगत में बड़ा बदलाव आया है। उत्तर प्रदेश में पर्यटकों के आने से प्रदेश की आर्थिक उन्नति होगी और लोगों को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। पर्यटन नीति के तहत रेल, वायु एवं सडक़ परिवहन सुविधाओं को बेहतर बनाने का भी काम किया जाएगा।

Pin It