बेखौफ बदमाशों ने जौनपुर में दिनदहाड़े लूट लिए 13 लाख के जेवर

बेखौफ बदमाशों ने जौनपुर में दिनदहाड़े लूट लिए 13 लाख के जेवर

पुलिस महकमे में हड़कंप
12 ग्राहकों की मौजूदगी में असलहे के बल पर दिया वारदात को अंजाम
नाकेबंदी के बाद भी नहीं मिला अपराधियों का सुराग, घटना सीसीटीवी में कैद
तीन बाइकों पर सवार होकर पहुंचे थे आधा दर्जन बदमाश, क्षेत्र में दहशत

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्रदेश में बदमाशों के हौसले बुलंद हैं। जौनपुर में आज दिनदहाड़े पवारा बाजार स्थित एक सर्राफा की दुकान पर बदमाशों ने धावा बोल दिया और असलहों के बल पर 13 लाख से अधिक के जेवर लूट लिए। इस दुस्साहसिक वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश असलहा लहराते हुए मुंगरा बादशाहपुर की ओर भाग निकले। घटना की जानकारी मिलने पर एसपी ग्रामीण, सीओ और कई थानों की फोर्स पहुंची। नाकेबंदी कर चेकिंग शुरू कराई गई लेकिन कोई सुराग हाथ नहीं लगा। सीसीटीवी में घटना कैद हुई है। अमरनाथ की पंवारा बाजार में सोने-चांदी के आभूषण की दुकान है। आज सुबह सवा दस बजे उन्होंने दुकान खोली। उन्होंने बताया कि सवा ग्यारह बजे तीन बाइकों से छह बदमाश पहुंचे। तीन बदमाश उतरे और दुकान में घुस गए। तीनों ने फिल्मी स्टाइल में असलहा निकाला और अमरनाथ के ऊपर तान दिया। यही नहीं बदमाशों ने वहां मौजूद 12 ग्राहकों को चुपचाप बैठने की हिदायत दी। इसके बाद दुकान में मौजूद जेवर और नगदी लेकर फरार हो गए। दुकानदार के अनुसार बदमाशों के हाथ 200 ग्राम सोना, 3 किलो चांदी के जेवर और 20 हजार नगद लगा है। आभूषण की कीमत लगभग 13 लाख है। दिनदहाड़े हुई लूट की घटना की सूचना मिलते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया।
क्या कहना है पुलिस का
एसपी के पीआरओ अशोक कुमार का कहना है कि मौके का निरीक्षण किया गया है। सीसीटीवी फुटेज में पूरी घटना कैद हो गई है। आरोपियों को चिन्हित कर दबिश दी जा रही है। जल्द ही बदमाश पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

यूपी में कोरोना ने तोड़े सारे रिकॉर्ड चौबीस घंटे में मिले 4453 नए केस

लखनऊ में 562 संक्रमित, सकते में स्वास्थ्य विभाग
गोंडा में एसओ सहित पांच पुलिसकर्मी भी चपेट में

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना की रफ्तार डराने लगी है। हर नए दिन के साथ यहां मरीजों के मिलने का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। प्रदेश में चौबीस घंटे में रिकॉर्ड 4453 नए केस मिले हैं। यह एक दिन में अब तक का सबसे अधिक संक्रमितों के मिलने का आंकड़ा है। वही,ं तेजी से बढ़ रहे संक्रमण को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग व प्रशासन सकते में है। दो दिन के साप्ताहिक लॉकडाउन के बाद भी प्रदेश में कोरोना की रफ्तार थम नहीं रही है। पिछले चौबीस घंटे में प्रदेश में 4453 नए केस मिले हैं। इसमें लखनऊ में 562, कानपुर में 321, बरेली में 295 और इलाहाबाद में 231 नए मामले सामने आए हैं। वहीं गोंडा के तरबगंज थाने के एसओ सहित पांच पुलिसकर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इससे महकमे में खलबली मची। अब तक थाने के कुल 11 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित पाए जा चुके हैं। इनको थाने के सामने स्थित मॉडल प्राथमिक विद्यालय रेतादल सिंह में आइसोलेट किया गया है। यहां पर उनका इलाज चल रहा है।
देश में 16 लाख के पार पहुंचा आंकड़ा
स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक बीते चौबीस घंटे में कोरोना के 55,078 नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ कोरोना मीटर 16 लाख के पार पहुंच गया है। महज दो दिन में कोरोना के एक लाख से अधिक केस सामने आए हैं। वहीं पिछले 24 घंटों में 779 और लोगों की मौत होने के बाद मृतक संख्या 35,747 हो गई है। यह लगातार दूसरा दिन है जब 50,000 से अधिक केस सामने आए हैं। इसके पहले 52 हजार 146 केस सामने आए थे और 775 लोगों की मौत हुई थी। कुल 16 लाख 38 हजार 870 लोग संक्रमित हो चुके हैं।

राजस्थान में सियासत का नया ठिकाना बना जैसलमेर

14 अगस्त को बुलाया गया है विधान सभा सत्र, सीएम गहलोत ने खरीद-फरोख्त की कही बात

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। राजस्थान में जारी सियासी घमासान के बीच अशोक गहलोत खेमे के विधायकों को आज जैसलमेर शिफ्ट किया गया है। विधायक इससे पहले जयपुर के फेयरमोंट होटल में ठहरे हुए थे। सचिन पायलट और कांग्रेस के 18 अन्य विधायकों द्वारा सरकार के खिलाफ बगावत करने के बाद 13 जुलाई से विधायक फेयरमोंट होटल में ठहरे हुए थे। विधायकों को शिफ्ट करने की वजह नहीं पता चली है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने संकेत दिया था कि वह विधानसभा सत्र में विश्वास मत की मांग करेंगे और दावा किया कि विधायकों को पक्ष बदलने के लिए पैसों की पेशकश की जा रही है। उन्होंने कहा कि जिन बागियों ने पैसा स्वीकार नहीं किया है वे पार्टी में लौट सकते हैं।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का कहना है कि 14 अगस्त से विधानसभा सत्र की शुरुआत होने की घोषणा के बाद से विधायकों की खरीद-फरोख्त के रेट (दाम) बढ़ गए हैं। इसी वजह से उन्होंने सभी विधायकों को राजधानी जयपुर से 550 किलोमीटर दूर जैसलमेर शिफ्ट करने का फैसला लिया है। उन्होंने व्यापार सलाहकार समिति का जिक्र करते हुए कहा, बहुमत परीक्षण होगा। हम विधानसभा में जाएंगे। बीएसी इसका फैसला लेगी। गहलोत ने कहा कि पहले पहली किस्त के रूप में 10 करोड़ रुपये और दूसरी के रूप में 15 करोड़ रुपये दिए जा रहे थे। अब ये रेट बढ़ गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *